Pregnancy Tips: अगर आप माँ बनना चाहती है तो प्रेग्नेंसी में इन बातों का रखें ख्याल…

खबर शेयर करें

Tips for Good Pregnancy: हर परिवार को लगता है कि शादी के बाद जल्द से जल्द उनके घर नन्हा मेहमान आ जाए। हालांकि कई बार यह सपना पूरा नहीं हो पाता है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अक्सर महिलाएं कुछ शारीरिक कारणों से गर्भधारण नहीं कर पाती हैं। इसलिए वे निराशा की गहराई में जाते नजर आ रहे हैं। हालांकि, अगर आप कुछ छोटे-छोटे उपाय ( Pregnancy Tips), आहार में बदलाव (Diet Plan for Pragnancy) करें तो आप गर्भवती हो सकती हैं। 

डॉक्टर के मुताबिक 18 से 28 साल प्रेग्नेंसी के लिए आदर्श उम्र होती है। इस उम्र में महिलाओं के शादी के बाद गर्भधारण करने की संभावना सबसे ज्यादा होती है। इस उम्र में महिलाएं सर्वाधिक जननक्षम (फर्टाइल) होती हैं। एक 25 वर्षीय महिला की तुलना में एक 35 वर्षीय महिला के गर्भवती होने की संभावना 50 प्रतिशत कम हो जाती है। इसलिए अपनी उम्र को देखते हुए गर्भधारण करने की कोशिश करें। यदि आप बड़े हैं, तो अपने डॉक्टर से सलाह लें।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking: धामी कैबिनेट की बैठक खत्म, 7वें वेतनमान पर लिया ये निर्णय

अक्सर नवविवाहित महिलाएं पहली कोशिश में या गलती से गर्भवती हो जाती हैं। हालांकि, किसी न किसी कारण से ऐसे जोड़े गर्भपात का विकल्प चुनते हैं। कुछ लोग शादी के पहले साल में बच्चा नहीं चाहते हैं। हालांकि, यह एक बड़ी गलती हो सकती है। क्योंकि पहली गर्भावस्था में निषेचन की दर बढ़ जाती है। यदि इस समय गर्भपात कराया जाए तो महिलाओं के शरीर में जटिलताएं बन सकती हैं। बाद में जब आप बच्चा चाहती हैं तो गर्भधारण करने में कई दिक्कतें आ सकती हैं। तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से सलाह लें।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand: कोतवाली पहुंचा फौजी, साहब... मेरी पत्नी मुझे बहुत मारती है। मुझे उससे बचा लो

जल्दी गर्भवती होने के लिए मासिक धर्म का नियमित होना बहुत जरूरी है। कई महिलाओं को महीने की अलग-अलग तारीखों में मासिक धर्म होता है। कुछ महिलाओं को जल्दी मासिक धर्म आता है और कुछ महिलाओं को देर से मासिक धर्म आता है। इससे गर्भधारण में समस्या हो सकती है। इसलिए ऐसी समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

मासिक धर्म से 2 सप्ताह पहले ओव्यूलेशन की अवधि होती है। इस दौरान शारीरिक संबंध बनाना प्रेग्नेंसी के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। डॉक्टर भी इस दौरान गर्भधारण करने की कोशिश करने की सलाह देते हैं। इस अवधि के दौरान महिला शरीर अंडकोष को प्रजनन के लिए तैयार करता है। इसी अवधि में संभोग से गर्भधारण की संभावना 60 से 70 प्रतिशत तक होती है। इसलिए मासिक धर्म की तारीख को ध्यान में रखकर गर्भधारण करने की कोशिश करें।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: भाजपा प्रदेश महामंत्री अजय कुमार ने पौधरोपण कर किया एक वृक्ष माँ के नाम कार्यक्रम का शुभारंभ

अधिक वजन प्रेगनेंसी में एक बड़ी बाधा बन सकता है। इससे महिलाओं में फैलोपियन ट्यूब और अंडाशय बंद हो जाते हैं, जो गर्भावस्था में प्रमुख भूमिका निभाते हैं। इसलिए वजन कम करना गर्भावस्था के लिए सबसे अच्छा उपाय है।

यदि आप गर्भवती होने की योजना बना रही हैं, तो उस वर्ष के दौरान गर्भनिरोधक गोलियों या अन्य दवाओं का सेवन तुरंत बंद कर दें। इन कॉस्ट्रासेप्टिव दवाओं में कई हानिकारक तत्व होते हैं, जो आपके शरीर को प्रभावित कर सकते हैं। यह निषेचन की प्रक्रिया को गंभीर रूप से प्रभावित करता है। जब आप गर्भवती होने की सोच रही हों तो इन दवाओं को एक साल पहले ही बंद कर दें और डॉक्टर कहते हैं कि हफ्ते में 2 से 3 बार संभोग करना जरूरी है।

Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]