उत्तराखंड: त्रिशूल चोटी पर नौसेना के चार पर्वतारोहियों के शव बरामद, जारी रहेगा रेस्क्यू अभियान…

FOUR ARMYMEN DEATH
खबर शेयर करें

UTTARAKHASHI NEWS: त्रिशूल चोटी आरोहण के दौरान हिमस्खलन (एवलांच) की चपेट में आए नौसेना के पांच पर्वतारोहियों में से चार के शव आज बरामद कर लिए गए। अभी नौसेना का एक पर्वतारोही और पोर्टर लापता है। इनकी पहचान लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीकांत यादव, लेफ्टिनेंट कमांडर योगेश तिवारी, लेफ्टिनेंट कमांडर अनंत कुकरेती और हरिओम हरिओम एमसीपीओ के रूप में हुई है।

एवलांच दुर्घटना में एक जवान और पोर्टर अभी भी लापता चल रहे हैं। लापता पोर्टल और जवान की तलाश में रविवार का त्रिशूल माउंट पर सर्च अभियान जारी रहेगा।  प्रधानाचार्य कर्नल अमित बिष्ट ने बताया कि चार जवानों का शव देर रात बेस कैंप लाया गया है। मौसम की दुश्वारियां के बावजूद उनकी टीम घटनास्थल तक पहुंचने में सफल रही। उन्होंने बताया की लापता जवान और पोर्टल की तलाश में रविवार को भी सेना व निम की टीम का रेस्क्यू अभियान त्रिशूल माउंट पर जारी रहेगा। 

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पहाड़ी से गिरा पत्थर शीशा तोड़ बस के अंदर घुसा, एक की मौत

शनिवार की दोपहर खोज के लिए गए दल को हवाई सर्वे के दौरान मौके पर चार लोग पड़े हुए दिखाई दिए। इन लोगों को निकालने के लिए टीम उतारी गई। निम के कर्नल अमित बिष्ट ने शुरुआती जानकारी दी थी कि रेस्क्यू अभियान में रविवार तक का समय लग सकता है। रेस्क्यू के लिए हाई एल्टीट्यूड वारफेयर स्कूल गुलमर्ग से भी टीम पहुंच चुकी है। लेकिन देर शाम उन्होंने चार शवों के मिलने की पुष्टि कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  Big breaking: अल्मोड़ा में बुजुर्ग को मारी गोली, मचा हड़कंप

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने त्रिशूल पर भारतीय नौसेना के पर्वतारोहण अभियान में शामिल चार नौसेना कर्मियों की मौत पर दुख व्यक्त किया है। एक ट्वीट में सिंह ने कहा कि इस त्रासदी में राष्ट्र ने न केवल अनमोल युवा बल्कि साहसी सैनिकों को भी खोया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: बाप ने किया सो रहे बेटे पर कुल्हाड़ी से वार, हालत गंभीर

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *