उत्तराखंड: पार्थिव शरीर से लिपट गए माँ-बाप और पत्नी, नम आंखों से दी शहीद योगंबर को अंतिम विदाई…

yogambar singh bhandari uttarakhand
खबर शेयर करें

CHAMOLI NEWS: जम्मू के पुछ जिले में आतंकवादियों से मुठभेड़ में शहीद सांकरी गांव निवासी राइफलमैन योगंबर सिंह भंडारी का पार्थिव शरीर रविवार को उनके गांव पहुंचा। अंतिम दर्शन के बाद उनके पैतृक घाट बामनाथ के त्रिवेणी घाट पर शहीद को अंतिम विदाई दी गई। 11 मराठा रेजीमेंट के जवानों ने उन्हें गार्ड आफ आनर दिया। शहीद योगंबर सिंह के अंतिम संस्कार में बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंचे। इस दौरान उन्होंने नम आंखों से शहीद को विदाई दी।

Ad

इस दौरान भारत माता की जय के नारे लगाए गए। सुबह 10.30 बजे सेना के वाहन से तिरंगे में लिपटा हुआ उनका पार्थिव शरीर पोखरी होते हुए पैतृक गांव सांकरी पहुंचा। इस दौरान रास्ते भर में लोगों ने जगह-जगह उनके पार्थिव शरीर पुष्प वर्षा की। लोगों ने जब तक सूरज चांद रहेगा योगंबर तेरा नाम याद रहेगा, पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। जैसे ही उनका पार्थिव शरीर गांव पहुंचा तो बड़ी संख्या में लोग अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे। पूरे गांव के लोगों की आंखों से आंसू छलक उठे। इस दौरान शहीद की पत्नी कुसुम देवी उनके शव से लिपट गई। उनका रो-रोकर बुरा हाल हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: गजब यहाँ पतंग के चक्कर में अखाड़े के संत और लोगों में जमकर मारपीट...

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *