उत्तराखंड: अल्मोड़ा में कल आनी थी बारात, आज नाबालिग निकली दुल्हन तो उड़ गये होश

marrige almora uttarakhand
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News: उत्तराखंड में नाबालिगों की शादी के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है। अभी हाल ही में ऊधमसिंह नगर जिले में दो नााबालिगों की शादी के मामले सामने आये थे। अब पहाड़ में भी एक नाबालिग की शादी का मामला सामने आया है। किशोरी की बारात कल यानी 30 मई को आनी थी लेकिन उससे पहले ही मामले का खुलासा होने पर शादी रोक दी गई। दूल्हा और दुल्हन के परिजनों ने दुल्हन के बालिग होने पर शादी करने की बात कही है। फिलहाल पुलिस इस मामले में अपनी नजर बनाये हुए है।

Ad

मामला धौलादेवी ब्लॉक का है। जहां एक गांव में 30 मई को ब्लॉक के ही दूसरे गांव से बारात आनी थी। अब कोरोनाकाल में शादी की परिमिशन लेनी अनिवार्य है ऐसे में परमिशन के लिए दुल्हन पक्ष के लोग तहसील में आये। सभी कागज मांगें गये तभी आधार कार्ड में पता चला कि दुल्हन तो नाबालिग है। दुल्हन की उम्र आधार कार्ड के हिसाब से 17 साल 7 माह ही निकली।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: आंगनबाड़ी के 126 पदों पर आई भर्ती, 5 दिसंबर तक करें आवेदन…

एसडीएम ने इस मामले की इसकी सूचना दन्या पुलिस को दी। पुलिस ने दुल्हन पक्ष के लोगों से जानकारी ली। पुलिस के मुताबिक पूछताछ में चला कि जन्मपत्री में लड़डक़ी 18 साल की हो गई। परिजनों ने आधार कार्ड का ध्यान नहीं दिया। परिजनों ने पुलिस से कहा कि वह लडक़ी के बालिग होने पर ही विवाह कराएंगे। इसके लिए परिजनों ने पुलिस को लिखित में एक पत्र भी दिया। फिलहाल शादी पर रोक लगा दी गई है। इस मामले में एसडीएम मोनिका का कहनाा है कि दुल्हन पक्ष के लोग शादी की परिमिशन के लिए आये थे। इसमें दुल्हन के नाबालिग होने की बात सामने आई। इसके बाद दुल्हन के पिता से लिखित में पत्र लिया है। पिता ने कहा है कि बालिग होने पर ही वह अपनी बेटी की शादी करेंगे। शादी को रोक दिया गया है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *