उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में मां ने बेच दी नाबालिग बेटियां, राजस्थान के दो दलालों समेत पांच गिरफ्तार

manav taskari pithoragadh
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Pithoragadh: मानव तस्करी के मामले लगातार बढ़ रहे है। खासकर पहाड़ों से बेटियों की मानव तस्करी के मामले सामने आते रहते है। अब पिथौरागढ़ में मानव तस्करी का मामला सामने आया। ऐंचोली चौकी प्र्रभारी प्रकाश पाण्डेय को सूचना मिली कि एक वाहन स्कोर्पियों में कुछ लोग दो छोटी लड़कियों को खरीदकर बेचने जा रहे हैं। इसकी सूचना प्रकाश पाण्डेय द्वारा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली पिथौरागढ़ को दी गई। सूचना मिलते ही प्रभारी निरीक्षक कोतवाली पिथौरागढ़ प्रभात कुमार पुलिस टीम के साथ रवाना होकर ऐंचोली चौकी पर पहुँचे।

इसके बाद पुलिस ने बैरिकेटिंग कर दी। जैसे ही स्कॉर्पियों नम्बर यूके03बी-5353 पहुंची तो पुलिस ने उसकी तलाशी ली गयी तो उसके अन्दर दो छोटी बालिकाएं पिछली सीट पर डरी सहमी बैठी हुई थी। उनके अलावा गाड़ी में ड्राइवर के बगल में एक व्यक्ति तथा बीच की सीट में तीन व्यक्ति बैठे हुए थे। पुलिस ने सभी को बाहर उतरने को कहा। इसके बाद चालक से पूछताछ में उसने अपना नाम सनी सिंह पुत्र सतपाल सिंह निवासी. वार्ड नं0. 05 मौना बाजार बनबसा जिला चम्पावत बताया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: 5 करोड़ के पार पहुंचा थल की बजारा गीत, लोकगायक बीके सामंत का जलवा बरकरार

दूसरे ने अपना नाम चन्द्रप्रकाश उर्फ चन्दू पुत्र स्व. जगत राम निवासी. ग्राम चिंगरी पोस्ट सल्ला चिंगरी पट्टी सल्ला जिला पिथौरागढ़ जबकि पीछे बैठे व्यक्तियों ने अपना नाम राहुल यादव पुत्र प्रकाश यादव निवासी मकान नं-28 अहिरवस्ती नगलीतर्क वायडा थाना काडूमर जिला अलवर राजस्थान , दीपू राम सुनार पुत्र गोपाल राम सुनार निवासी ग्राम तल्लीदेह थाना तल्लीदेह जिला बैतड़ी नेपाल हाल दौला पिथौरागढ़ व उसके बगल में बैठे व्यक्ति ने अपना नाम तुलसी उर्फ तुलसी चौधरी पुत्र होती सिंह निवासी. ग्राम कैलूरी पोस्ट रोनिजा तहसील नदवई थाना नदवई जिला भरतपुर राजस्थान बताया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: 1 अक्टूबर से दिल्ली नहीं जा पायेगी उत्तराखंड रोडवेज की 200 बसें, पढ़ लिजिए पूरी खबर

इसके बाद महिला उनि प्रियंका मौनी व कानि कविता मेहता द्वारा स्कोर्पियो के पिछली सीट पर बैठी हुई दोनों बालिकाओं से मौके पर पूछताछ की गयी तो उन्होंने रोते हए बताया कि सामने खड़े दीपू अंकल और उनकी मां ने हम दोनों को जबरदस्ती राहुल यादव से शादी करने के लिए बेच दिया है। दीपू अंकल और मेरी माँ ने चन्दू से रुपये लेकर हमें जबरदस्ती मना करने के बाद भी इनके साथ शादी करने के लिए भेजा है। इसके बाद पूरा घटनाक्रम का खुलासा हो गया। मौके पर रोके गये व्यक्तियों से पूछताछ की गयी तो उनके द्वारा दोनों नाबालिग लड़कियों का सौदा किये जाने की बात कबूली, दोनों लड़कियों को राजस्थान में बेचने के इरादेे से ले जा रहे थे। पुलिस ने उनके कब्जे से दलाली के रुप में प्राप्त एक लाख सात हजार रुपये बरामद किये। जिसकेे बाद उनके खिलाफ आगेे की कार्यवाही शुरू की जा रही है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *