उत्तराखंड: (शाबास भुला)-सोशल मीडिया में ट्रेंड हुआ कांडपाल हेयर सैलून, पढिय़े इस सैलून के मालिक की संघर्ष भरी कहानी…

KANDPAL SALOON HALDWANI
खबर शेयर करें

Uttarakhand News: कोरोनाकाल में हजारों युवा बेरोजगार हो गये। लाखों की संख्या में प्रवासी पहाड़ लौट आये। जिसमें से कई लोगों ने स्वरोजगार को अपना लिया। उत्तराखंड के अधिकांश युवाओं ने कुछ न कुछ कर कोरोनाकाल मेंं छाये रहे। ऐसे में एक फोटो आजकल सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। कांडपाल हैयर सैलून। लोग इस फोटो को शेयर कर अन्य युवाओं को भी जागरूक करने का संदेश दे है। कांडपाल सैलून की जमकर तारीफ हो रही है। आज हम आपको बतायेंगेे आखिर कौन है कांडपाल सैलून को चलाने वाला शख्स।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः खाना पैक कराने गये चार दोस्तों को जमकर पीटा, मरा समझकर फरार हुए हमलावर

हल्द्वानी के कुसुमखेड़ा विनोद कांडपाल लॉकडाउन सेे पहले दिल्ली में काम करते थे। लेकिन इस बीच पूरे देश में लॉकडाउन लगा तो अन्य युवाओं की तरह वह भी घर लौट आये। उनके ऊपर परिवार की जिम्मेदारी थी। ऐसे में उन्होंने सैलून खोलने का मन बनाया। सैलून खोलते ही उनकी दुकान में लोग आने लगे, जिससे उनका आत्मविश्वास औरबढ़ गया। विनोद कांडपाल का कहना है कि कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है। उन्होंने युवाओंं को खुद का कोई भी छोटा-मोटा व्यवसाय करने की सलाह दी।

यह भी पढ़ें 👉  गांधी जयंती पर विशेष: गाँधी सा चलना है...

विनोद कांडपाल बताते है कि वह मूलरूप से अल्मोड़ा जिले के रहनेे वालेे है। कई सालों से हल्द्वानी में रह रहे है। बचपन सेे ही गरीबी में पले-बढ़े विनोद ने काफी संघर्ष केे बाद एक बेहतर जीवन की कल्पना की थी लेेकिन कोरोना ने उनके अरमानों पर पानी फेर दिया। पर कांडपाल कहा हार मानने वाले थे। उन्होंने सैलून का काम शुरू कर एक नई कहानी लिख दी। आज उनके सैलून की चर्चा पूरे उत्तराखंड में हो रही है। युवा उनसे प्रेरणा ले रहे हैै।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *