उत्तराखंड: अब रामनगर में कोविड सेंटर में हुआ निकाह, पीपीई किट पहन शादी करने पहुंची दुल्हन

muslim marriage ppe kit uttarakhand
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Ramnagar: कोरोना काल में शादियों का सीजन चल रहा है। ऐसे में अभी तक कई शादियां पीपीई किट पहनकर हुई है। पहाड़ से लेकर शहर तक लोग कोरोना काल मेंं समारोह कर रहे है। अब रामनगर में दूल्हा-दुल्हन कोविंड सेंटर में निकाह किया। जबकि इससे पहले दूल्हा बिना दुल्हन के लौटा तो कही दुल्हन खुद दूल्हे के घर बारात लेकर पहुंची। लेकिन रामनगर में दुल्हन खुद कोविंड सेंटर पहुंची जहां दूल्हा पहले से भर्ती था। इसके बाद मौलवी ने पीपीई किट पहनकर संपन्न करवाया। निकाह कराने में कोविड के नोडल अधिकारी ने भी सहयोग किया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: अजब चोर की गजब कहानी, दोस्तों की उधारी चुकाने को टाटा मोटर्स का सैल्स एग्जिक्यूटिव बन गया शातिर चोर

जानकारी के अनुसार रामनगर के धनुपर के नफीस अहमद की शादी सुल्तानपुर पट्टी निवासी शबनम से 27 मई को तय हुई थी। नई गाइडलाइन के चलते शादी के लिए कोरोना टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है ऐसे गाइडलाइन का पालन करते हुए दोनों पक्षों ने कोरोना टेस्ट कराया तो दूल्हा कोरोना पॉजिटिव निकल गया। शादी के दो दिन पहले उसे कोविंड सेंटर में भर्ती होना पड़ा। लेकिन उन्होंने शादी का इरादा नहीं बदला।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: गर्भवती महिला ने बच्चे को सड़क पर दिया जन्म, एक घंटे बाद आई एंबुलेंस

लोगों की राय के बाद दोनों ने कोविड सेंटर में हुए निकाह में परिवार का कोई भी सदस्य नहीं था। नोडल अधिकारी डा. प्रशांत कौशिक ने बताया कि शासन ने विवाह में आरटीपीसी रिपोर्ट अनिवार्य की है। बारात ले जाने से दो दिन पहले दूल्हा आरटीपीसीआर जांच में कोरोना संक्रमित पाया गया। पर युवक ने शादी को नहीं टालना चाहा। ऐसे में मौलाना ने दोनों को पीपीई किट पहनाकर निकाह की रस्म अदा कराई। इसके बाद कोरोना संक्रमित नफीस और शबनम पति-पत्नी बन गए। कोविड सेंटर में हुए निकाह में डॉक्टर और अन्य स्टाफ भी मौजूद रहा।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *