उत्तराखंड: चमोली में फिर टूटा बादलों का कहर, सैलाब में बही कई झोपडिय़ां…

CHAMOLI AAPDA
खबर शेयर करें

CHAMOLI NEWS:उत्तराखंड में बारिश का कहर जारी है। अभी तक कई जिलों मेें बादल फटने की घटनाएं हो सकती है।एक बार फिर चमोली जिला सुर्खियों में है। इससे पहले चमोली जिला कई आपदाएं झेल चुके है। इन आपदाओं के घाव अभी भरे नहीं कि आज सुबह फिर बादलों ने अपना कहर बरपा दिया। जिससे नारायणबगड़ में तबाही मच गई। हादसे में बीआरओ के मजदूरों की करीब सात झोपडिय़ा बह गई।

Ad

घटना की जानकारी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ली। उन्होंने बताया कि स्थानीय प्रशासन राहत बचाव कार्य कर रहा है। बादल फटने की घटना से कोई जनहानी नहीं हुई है। बताया जा रहा है कि सोमवार सुबह नारायणबगड़ के पंती कस्बे के ऊपरी भाग में करीब 6 बजे बादल फटने से मंगरीगाड़ में आई बाढ़ ने भारी तबाही मचाई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: जंगल में सेल्फी ले रहा था युवक, तभी सामने पहुंचा गुलदार, दो दिन तक ऐसे पेड़ पर काटी रात…

इस दौरान भारी सैलाब आने से कर्णप्रयाग-ग्वालदम हाईवे के किनारे बीआरओ के मजदूरों की करीब सात झोपडिय़ां बह गईं। जब मलबा आया मजदूर अपनी झोपडिय़ों में ही थे। हालांकि जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ है। इस बाढ़ से मजदूरों के 19 परिवार बेघर हो गए हैं। एक दुकान में मलबा घुस गया। बताया जा रहा है कि स्थानीय लोगों ने आनन-फानन में बच्चों और महिलाओं को सैलाब से बचा लिया। ये सभी मजदूर नेपाल और झारखंड के रहने वाले हैं। इसके अलावा मलबे से कर्णप्रयाग-ग्वालदम हाईवे बंद हो गया है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *