उत्तराखंड: मंत्री सौरभ बहुगुणा के कायल हुए पूर्व सीएम हरीश रावत, ऐसे कर दी तारीफ…

खबर शेयर करें

Haldwani News:भराड़ीसैंण ( गैरसैंण) विधानसभा सदन में बजट सत्र चल रहा है। सभी की निगाहें बजट सत्र पर हैं। सरकार और विपक्ष के बीच गर्मा गर्मी भी देखने को मिल रही है वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस बार हरदा युवा कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा की तारीफ कर रहे हैं।

उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा कि कांग्रेस के सदस्यों ने चुटकुले प्रश्नों से मंत्री जी को घेरने की कोशिश की लेकिन मैं मंत्री जी को शाबाशी देना चाहता हूं। उन्होंने अपने आंकड़ों और शब्दों के जाल से ऐसा आभास नहीं होने दिया कि वह कांग्रेस के सदस्यों के प्रश्नों के घेरे में हैं। उन्होंने सदन में सौरभ बहुगुणा के जवाब देने के अंदाज को चतुराईपूर्ण बताया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानीः APS में फिन तैराकी राष्ट्रीय चैंपियनशिप का ट्रायल, इन बच्चों ने मारी बाजी

यह पहला मौका नहीं है,जब हरीश रावत ने सरकार के किसी मंत्री की तारीफ की है। इससे पहले कई बार वह मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की भी तारीफ कर चुके हैं। अब इस लिस्ट में सौरभ बहुगुणा का नाम भी शामिल हो गया है। कहना गलत नहीं होगा कि पहली बार मंत्री पद संभाल रहे सौरव बहुगुणा अभी तक अनुभवी लोगों के बीच परिपक्व तरीके से खुद को पेश करने में कामयाब हुए हैं। शायद इसी वजह से लगातार दूसरी बार विधायक बने सौरभ बहुगुणा की काबिलियत को देखते हुए पशुपालन मंत्री बनाया गया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: वरिष्ठ पत्रकार को पुत्री के इलाज के लिए आर्थिक सहायता की दरकार, आप भी बढ़ाए हाथ

कल यूं ही मैंने #भराड़ीसैंण विधानसभा की कार्यवाही को देखने और विशेष तौर पर गन्ना किसानों के सवाल को लेकर हो रही चर्चा को सुनने की उत्सुकता में विधानसभा की कार्यवाही को देखा। कांग्रेस के सदस्यों ने चुटिले प्रश्नों के साथ मंत्री जी की घेराबंदी की। मगर मैं, मंत्री जी को भी शाबाशी देना चाहूंगा कि उन्होंने आंकड़ों और शब्दों के जाल से ऐसा आभास नहीं होने दिया कि वो, कांग्रेस के सदस्यों के प्रश्नों के घेरे में हैं! जबकि एक बहुत कठिन चुनौती है उनके सामने गन्ना किसानों को संतुष्ट करने की और उसके साथ-साथ #इकबालपुर_चीनी मिल पर जो #किसानों का बकाया है उसका भुगतान सुनिश्चित करने की! मंत्री जी के जवाब भले ही समाधानकारी न हों, मगर चतुराईपूर्ण थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]