उत्तराखंड: हल्द्वानी की बेटी ने दुनियां में रोशन किया देवभूमि का नाम, तैयार की टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाडिय़ों के परिधानों की डिजाइन

aditri goyal haldwani
खबर शेयर करें

Haldwani News: एक बार फिर हल्द्वानी का नाम रोशन हुआ है। हल्द्वानी की बेटी ने पूरे दुनियां भर में उत्तराखंड का सिर गर्व से ऊंचा किया है। जी हां टोक्यो में चल रहे ओलंपिक खेलों में भाग लेने गए भारतीय खिलाडिय़ों के परिधानों के डिजाइन हल्द्वानी की इदित्री गोयल ने तैयार किए हैं। वह भारतीय ओलंपिक संघ की उत्तराखंड से एकमात्र फैशन डिजायन कंसलटेंट हैं। इदित्री के घर में खुशी का माहौल है लोग उनकेे माता-पिता को बधाई देने पहुंच रहे है।

Ad

बता दें कि नैनीताल रोड पर वैशाली कॉलोनी निवासी 27 वर्षीय इदित्री ने 12 वीं निर्मला कान्वेंट हल्द्वानी से किया। वह हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में टॉपर रहीं। इसके बाद मिरेंडा हाउस दिल्ली से बीए स्नातक करने चल गई। जहां उसने फैशन को कॅरियर बनाने की चाहत के चलते वह मिलान इटली चलीं गईं। यहीं फैशन और लग्जरी ब्रांड में पढ़ाई की। इदित्री बताती है कि वर्ष 2016 से 2018 तक उन्होंने भारत में प्रसिद्ध और अंतरराष्ट्रीय फैशन डिजाइनर के साथ काम सीखा। इसकेे बाद उन्होंने 2018 से 2020 तक उन्होंने दिल्ली में रहकर ही लड़कियों के कपड़ों को लेकर माइल्ड वाइल्ड क्लोथिंग ब्रांड बनाया।

यह भी पढ़ें 👉  GOVT JOB: उत्तराखंड पुलिस में अब इन पदों पर निकली बंपर भर्ती, 10 जनवरी से शुरू होंगे आवदेन…
aditri goyal tokiyo olmpic

ओलंपिक खेलों के लिए भारतीय ओलंपिक संघ को डिजाइनरों की तलाश थी। इस मौके का फायदा उठाते हुए उन्होंने आवेदन कर दिया। उनके प्रोफाइल को देखकर भारतीय ओलंपिक संघ ने उनके आवदेन को स्वीकार कर लिया और उन्हें डिजाइन कंसलटेंट बनाया। इदित्री ने बताया कि ओलंपिक संघ की तय गाइडलाइन के अनुसार ही डिजाइन प्रस्तुत करने थे, इसके लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी। उन्होंने तीन से चार महीने में कई डिजाइन तैयार किये जिसमें से एक डिजाइन संघ को पसंद आ गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: गजब यहाँ पतंग के चक्कर में अखाड़े के संत और लोगों में जमकर मारपीट...

इदित्री ने यह डिजाइन भारत की संस्कृति परंपरा और सौंदर्य को ध्यान में रखते हुए परिधानों को रखकर किया था। उन्होंनेे बताया कि यह सब टीम वर्क था जो भारतीय ओलंपिक संघ की मदद से हुआ। अब भारतीय खिलाड़़ी उनके डिजाइन के परिधान पहन खेल रहे है। मां आरती और पिता वीरेंद्र गोयल के यकीन था कि उनकी बेटी कुछ अलग करेगी।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *