Karwa Chauth 2022: पढ़िये करवा चौथ पर अपने शहर चांद निकलने का समय और पूजा विधि…

Karwa Chauth 2022
खबर शेयर करें

Karwa Chauth 2022: करवा चौथ का पावन पर्व गुरुवार 13 अक्टूबर को है। करवा चौथ का त्योहार कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है। हिन्दू धर्म में करवा चौथ व्रत का खास महत्व है। करवा चौथ के व्रत महिलाओं के लिए बहुत खास होता है। हिन्दू धर्म में करवा चौथ का व्रत सुहागिनों के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दिन सुहागिन स्त्रियां अपने पति की लंबी आयु की कामना करती हैं. इस दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं और रात को चांद निकलने के बाद अपने अपने पति के हाथों से जल ग्रहण कर व्रत को तोड़ती हैं. ऐसी मान्यता है कि यह व्रत बिना चंद्रमा की पूजा के अधूरा है. इसलिए करवा चौथ के व्रत में चंद्रमा की पूजा अनिवार्य  होती है. ऐसे में आइए जानते हैं करवा चौथ यानि 13 अक्टूबर के दिन आपके शहर में कितने बजे चांद निकलेगा. आगे पढ़िये…

भारत के प्रमुख शहरों में चांद निकलने का समय

  • दिल्ली- 08 बजकर 09 मिनट पर
  • नोएडा- 08 बजकर 08 मिनट पर
  • मुंबई- 08 बजकर 48 मिनट पर
  • जयपुर- 08 बजकर 18 मिनट पर
  • देहरादून- 08 बजकर 02 मिनट पर
  • लखनऊ- 07 बजकर 59 मिनट पर
  • शिमला- 08 बजकर 03 मिनट पर
  • गांधीनगर- 08 बजकर 51 मिनट पर
  • अहमदाबाद- 08 बजकर 41 मिनट पर
  • कोलकाता- 07 बजकर 37 मिनट पर
  • पटना- 07 बजकर 44 मिनट पर
  • प्रयागराज- 07 बजकर 57 मिनट पर
  • कानपुर- 08 बजकर 02 मिनट पर
  • चंडीगढ़- 08 बजकर 06 मिनट पर
  • लुधियाना- 08 बजकर 10 मिनट पर
  • जम्मू- 08 बजकर 08 मिनट पर
  • बंगलूरू- 08 बजकर 40 मिनट पर
  • गुरुग्राम- 08 बजकर 21 मिनट पर
  • असम – 07 बजकर 11 मिनट पर

करवा चौथ का त्योहार महिलाएं बड़े ही विधि-विधान से करती हैं। यदि आप भी इस वर्ष करवा चौथ का व्रत (Karwa Chauth Vrat) कर रही हैं। तो यह लेख आपके लिए ही है। इस लेख में हम आपको करवा चौथ पूजा की संपूर्ण विधि (Karwa Chauth Puja Vidhi) को आसान भाषा में बता रहे हैं। जिससे आप भी करवा चौथ के व्रत को विधि-विधान से कर सकें। इस वर्ष करवा चौथ का व्रत कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी (13 अक्टूबर, दिन गुरुवार, 2022) को होगा। करवा चौथ की पूजा का मुहूर्त 13 अक्टूबर, गुरुवार शाम 05 बजकर 54 मिनट से 07 बजकर 09 मिनट तक होगा। आगे पढ़िये…

करवा चौथ पूजा विधि (Karwa Chauth Puja Vidhi)

  1. सुबह सूर्योदय से पहले उठ जाएं। सरगी के रूप में मिला हुआ भोजन करने के बाद भगवान की पूजा करके निर्जला व्रत का संकल्प लें।
  2. करवा चौथ में महिलाएं पूरे दिन जल-अन्न कुछ ग्रहण नहीं करतीं फिर शाम के समय चांद को देखने के बाद दर्शन कर व्रत खोलती हैं।
  3. पूजा के लिए शाम के समय एक मिट्टी की वेदी पर सभी देवताओं की स्थापना कर इसमें करवे रखें।
  4. एक थाली में धूप, दीप, चंदन, रोली, सिन्दूर रखें और घी का दीपक जलाएं।
  5. पूजा चांद निकलने के एक घंटे पहले शुरू कर देनी चाहिए। इस दिन महिलाएं एक साथ मिलकर पूजा करती हैं।
  6. पूजन के समय करवा चौथ कथा जरूर सुनें या सुनाएं।
  7. चांद को छलनी से देखने के बाद अर्घ्य देकर चंद्रमा की पूजा करनी चाहिए।
  8. चांद को देखने के बाद पति के हाथ से जल पीकर व्रत खोलना चाहिए।
  9. इस दिन बहुएं अपनी सास को थाली में मिठाई, फल, मेवे, रुपए आदि देकर उनसे सौभाग्यवती होने का आशीर्वाद लेती हैं।
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *