उत्‍तराखंड: अब ATM से मिलेगा सस्ते गले का राशन, पढ़िए पूरी खबर

Tin mahine ka free rashan uttarakhand
खबर शेयर करें

Dehradun News: सरकारी सस्ते अनाज की दुकानों से राशन लेने वाले उपभोक्ताओं के लिए अच्छी खबर है अब आप को राशन की दुकानों में राशन घंटों लाइन में नहीं लगना पड़ेगा अब आप रुपयों की तरह एटीएम मशीन से अपना सस्ता गल्ला दुकान पर मिलने वाला राशन ले सकेंगे । विश्व खाद्य कार्यक्रम अन्नपूर्ति योजना के तहत उत्तराखंड में एटीएम मशीन की शुरुआत हो गई है पूरे प्रदेश में राशन की दुकानों पर एटीएम बैठाने का योजना के तहत उत्तराखंड को पहली बार में 60 अनाज एटीएम मंजूरी मिली है जहां पहले फेज में 60 एटीएम लगाए जाएंगे।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand: खाई में गिरा वाहन, भाजपा नेता की दर्दनाक मौत...

राज्य को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में केवल एक ही एटीएम दिया गया था। इन एटीएम के स्थापित होने से राशन कार्ड धारक दुकान में कतार लगाने के बजाए अपनी सुविधा के अनुसार कभी भी अपने कोटे का अनाज ले सकते हैं। बताया जा रहा है कि सभी जिलों के डीएसओं को अनाज एटीएम लगाने के लिए स्थान चिह्नित करने के निर्देश दिए जा रहे हैं। विखाका ने पायलट प्रोजेक्ट के रूप में मिले एटीएम की स्थापना में दिखाई गंभीरता के लिए राज्य की तारीफ भी की है। पहला एटीएम धर्मपुर में लगाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: मोदी सरकार में गरीबों पर महंगाई की मार, आटे पर जीएसटी लगाकर छीना गरीबों का निवाला: डिंपल पांडेय

खाद्व सचिव एवं आयुक्त ने कहा, ‘विखाका से 60 अन्नपूर्ति एटीएम स्वीकृत होना उत्तराखंड के लिए बड़ी उपलब्धि है। पायलट प्रोजेक्ट के रूप में मिले पहले अनाज एटीएम को इसी महीने के भीतर शुरू कर दिया जाएगा। इस मशीन में भी एटीएम मशीन की तरह स्क्रीन होगी यह मशीन बड़े आकार के भंडार ड्रमों से जुड़ी रहेगी। राशन कार्ड धारक यहां आकर एक तय स्थान पर अपना अंगूठा लगाएगा। अंगूठा स्कैन होते ही स्क्रीन पर कार्ड धारक का पूरा विवरण आ जाएगा। इसके बाद मशीन में अनाज का मूल्य नकद रूप में डाल कर या फिर आनलाइन जमा कराना होगा। फिर मशीन में बने एक छेद पर अपना झोला लगाना होगा। एक तय समय में मशीन कार्ड धारक को उसके लिए तय अनाज दे देगी।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand : उत्तराखंड बोर्ड ने जारी किया DE. LED का प्रवेश परीक्षा परिणाम, यहां देखे पूरी लिस्ट

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *