उत्तराखंड: (बड़ी खबर)- सोमेश्वर भाजपा में बगावत, रेखा आर्य के खिलाफ निर्दलीय मैदान में कूदी मधुबाला…

खबर शेयर करें

Uttarakhand Election 2022: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में भाजपा में टिकट बटवारे के बाद कई सीटों पर बगावत सामने आई है। इसके बाद कई बागी निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में कूदे हैं। यही हाल सोमेश्वर विधानसभा क्षेत्र का भी हैं। जहाँ भाजपा से टिकट की दावेदारी करने वाली मधुबाला ने टिकट न मिलने पर भाजपा के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंक दिया है। जिसके बाद मधुबाला ने निर्दलीय नामांकन कराते हुए सोमेश्वर विधानसभा से चुनाव लड़ने का एलान कर दिया। ऐसे में भाजपा के सामने असमंजस की स्थिति पैदा हो गई है। मधुबाला अब रेखा आर्य के खिलाफ चुनाव मैदान में है। ऐसे में सोमेश्वर विधानसभा में भाजपा को भारी नुकसान हो सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पहाड़ में घर से महिला को घसीटकर ले गया गुलदार, इस हाल में मिली लाश

निर्दलीय प्रत्याशी मधुबाला का कहना है कि पिछले 22 सालों से वह भारतीय जनता पार्टी में तन, मन, धन से कार्य करते आई है लेकिन हर बार पार्टी ने उनकी अनदेखी की है। वह पिछले एक साल से प्रदेश के कई नेताओं से वार्ता कर चुकी है। यहा तक की भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक से भी उन्होंने वार्ता की लेकिन उनकी बात को कोई तव्वजो नहीं दी गई। इसके बाद जब उन्होंने सोमेश्वर विधानसभा से भाजपा से दावेदारी की तो पार्टी ने कोई सुध नहीं ली। ऐसे में उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में कूदने की ठानी। जिसके बाद मधुबाला ने अपना नामांकन कराया है। कल नाम वापसी का अंतिम दिन है ऐसे में मधुबाला का यह कदम सोमेश्वर विधानसभा में भाजपा के लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: जन्मदिन का केक लेने गए युवक पर हमला, फायरिंग में पांच घायल

बता दे कि मधुबाला ने सोमेश्वर विधानसभा से भाजपा से दावेदारी की थी, लेकिन पार्टी ने रेखा आर्य को अपना प्रत्याशी बनाया है। मधुबाला की सास लछीमा देवी भी पहले सोमेश्वर ताकुला की ब्लॉक प्रमुख रह चुकी हैं। वही मधुबाला जिला पंचायत चुनाव भी लड़ चुकी है। साथ ही मधुबाला ग्राम पंचायत बले की प्रधान रही हैं। अब वह सोमेश्वर सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में उतरी है। ऐसे में सोमेश्वर में चुनावी मुकाबला दिलचस्प हो गया है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *