उत्तराखंड: हल्द्वानी में हाथों में मेंहदी लगाकर दुल्हन करती रही इंतजार, पर दूल्हा नहीं लाया बरात

muslim bride haldwani banbhulppura
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News: दहेज का दानव लंबे समय से चले आ रहा है। इसका ताजा उदाहरण हल्द्वानी में देखने को मिला जहां एक दुल्हन बरात का इंतजार करती रही लेकिन दूल्हा बरात नहीं लाया। सुबह से लेकर देर शाम तक बरात नहीं पहुंचने पर परेशान दूल्हन के पिता बनभूलपुरा थाने पहुंचे जहां उन्होंने वर पक्ष के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पहाड़ में घर से महिला को घसीटकर ले गया गुलदार, इस हाल में मिली लाश

जानकारी के अनसुार बनभूलपुरा के लाइन नंबर 18 निवासी अरशद अली ने अपनी बेटी आशिया की शादी बिलासपुर निवासी आसिफ खान के साथ तय की थी। शनिवार यानी 26 जून को दोपहर 12 बजे निकाह पढ़ा जाना था। ऐसे मेंं दुल्हन पक्ष ने शादी की तैयारी चोरगलियां रोड स्थित एक मैरिज हॉल में की थी। अब बरात आने का इंतजार था। दुल्हन हाथों में मेहंदी सजाये दूल्हे की राह देख रही थी। लेकिन बारात तय समय पर नहीं पहुंची तो घरातियों के सब्र का बांध टूटने लगा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: गर्भवती महिला ने बच्चे को सड़क पर दिया जन्म, एक घंटे बाद आई एंबुलेंस

इसके बाद वर पक्ष को फोन किया गया, वहां से जो सुनाई दिया उससे सभी के होश उड़़ गये। बाइक का इंतजाम नहीं होने से वर पक्ष ने बरात लाने से मना कर दिया। जिसके बाद देर शाम ही पीडि़त अरशद अली ने बनभूलपुरा थाने पहुंचकर पुलिस को तहरीर सौंपी। जिसमें उसने कहा कि बाइक की मांग दहेज के रूप में पूरी नहीं होने के कारण बरात नहीं लाई गई। जबकि विवाह संबंधी सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी थी। बरात नहीं आने से समाज में उनकी बेइज्जती हो रही है। इस मामले में बनभूलपुरा पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *