उत्तराखंडः फेसबुक पर युवती के जाल में फंसा हल्द्वानी निवासी कांस्टेबल, ठग लिए 2.97 लाख

FACEBOOK PAR DOSTI
खबर शेयर करें

Haldwani News: सोशल मीडिया के आने के बाद साइबर ठगों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है। अब 31वीं वाहिनी पीएसी में तैनात कांस्टेबल को पुराने नोट-सिक्के खरीदने का झांसा देकर ठग लिया। विज्ञापन में दिये गये नंबर पर संपर्क कर कास्टेबल ने 2.97 लाख रूपये गंवा दिये। पुलिस ने अज्ञात साइबर ठगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार ग्राम बेड़ापोखरा पोस्ट देवलचैड़ हल्द्वानी निवासी कुंदन सिंह अधिकारी ने सौंपी तहरीर में कहा था कि वह 31वीं वाहिनी पीएसी में तैनात है। उसे पुराने नोट-सिक्के कलेक्ट करने का शौक है। उसने फेसबुक में 22 मई 2022 को ओल्ड क्वॉयन बायर का विज्ञापन देखा। जिसमें पुराने सिक्के व नोट खरीदने के लिए मोबाइल नंबर दिया था उसने मोबाइल नंबर अपने मोबाइल में सेव कर लिया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानीः तिकोनिया चौराहे पर शराब विक्रेता ने युवक के सिर पर फोड़ी शराब की बोतल, ऐसी बची जान…

उस मोबाइल नंबर में एक युवती की डीपी लगी हुई थी। उसने जमा किए गए पुराने सिक्के और नोट उस नंबर पर भेज दिये। युवती ने नोट व सिक्कों की कीमत 15266900 रुपये बताते हुए कंपनी के चयन के लिए धन्यवाद चैट किया। इसके बाद एग्रीमेंट पेपर चार्ज के नाम पर 599 रुपये जमा करने को कहा। जब कास्टेबल ने युवती पर विश्वास न होने की बात कही तो उधर से युवती ने अपना आईडी, पैन कार्ड, आधार कार्ड व बिजनेस लाइसेंस भेजा। जिसमें उसका नाम रश्मि तोमर लिखा था। इसके बाद कास्टेबल ने 599 रुपये जमा कर दिए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः (बधाई)-पहाड़ के राजेन्द्र महर ने CDS परीक्षा में लहराया परचम, एयरफोर्स में मिली 1sT रैंक...

बात यही खत्म नहीं हुई। अब हुआ ठगी का असली खेल। इसके बाद रश्मि तोमर ने उसे एक नंबर देते हुए उसमें संपर्क करने को कहा। एग्रीमेंट चार्ज, फाइल, इनकम टैक्स, सेल्स टैक्स, आरबीआई चार्ज, जीएसटी का चार्ज जमा करने के लिए कहा गया। उन पर विश्वास कर उसने 22 मई से 15 जून के मध्य 2,09,731 रुपये की धनराशि उसे दिये गये उनके खाते में जमा कर दी। इसके बाद जब वह और रूपये मांगने लगी तो उसे ठगी का एहसास हुआ। अब कुंदन सिंह ने साइबर थाना पुलिस से शिकायत की गई। पुलिस ने अज्ञात साइबर ठगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *