उत्तराखंड: बेटी को बर्थडे गिफ्ट देने के लिए खरीदा 15 हजार का डॉगी, 66 लाख का पड़ा

DOGI LOSS 66 LAKH
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Dehradun: साइबार क्राइम इतना बढ़ चुका है कि लोग सुरक्षित नहीं है। एक महिला ने अपनी बेटी को जन्मदिन पर गिफ्ट देने के चक्कर में 66 लाख की चपत लग गई। महिला ने एक ऑनलाइन डॉगी खरीदा जिसकी कीमत 15 हजार रुपये चुकाने के चक्कर में जालसाज ने रिफंड का झांसा देकर महिला से 66 लाख रुपये ठग लिए। महिला की शिकायत केे बाद साइबर पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

Ad

मोथरोवाला में रहने वाली महिला ने बताया कि बीती 22 जून को उनकी बेटी का जन्मदिन था। उसने बेटी ने जन्मदिन पर असम से गोल्डन रिटरेवियर नस्ल का कुत्ता मंगाने को कहा। इसके लिए महिला ने लोकल सर्च इंजन जस्ट डायल की मदद ली। उसने गोल्डन रिट्रीवर नस्ल के कुत्ते के बच्चे की कीमत 15 हजार रुपये बताई। उसकी आनलाइन डिलीवरी करने के लिए उसने पांच हजार रुपये एडवांस मांगे और बाकी के 10 हजार रुपये डिलीवरी के बाद देने को कहा। इस पर महिला ने उसके बताए बैंक खाते में पांच हजार रुपये आनलाइन भेज दिए।
्र
अगले दिन एक ई-मेल भेजा गया, जिसमें एक लाख तीन हजार रुपये जमा कराने के लिए लिखा था। इस पर आरती ने यह रकम भी जमा करा दी। अगले दिन फिर एक लाख रुपये के लिए कहा गया। वह भी जमा करा दी। कभी तीन लाख तो कभी छह लाख इसी तरह रिफंडेबल बताते हुए जमा कराए गए। आरती ने 66 लाख रुपये से ज्यादा जमा करा दिए। इसके बाद तीन जुलाई को ई-मेल आया कि पिल्ला जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंच गया और उन्हें डिलीवर होने ही वाला है।

Ad

इसके बाद उनसे 25 लाख रुपये जमा कराने के लिए कहा गया। इस पर आरती को कुछ गड़बड़ लगा। ठगी का एहसास होने पर महिला ने साइबर थाने में शिकायत कर दी। स्पेशल टास्क फोर्स के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि प्रकरण में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पहाड़ की एक और बेटी ने बढ़ाया देवभूमि का मान, भारतीय सेना में बनी लेफ्टिनेंट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *