उत्तराखंड: (गजब)-सरकारी कागजों में मृत किसान पांच साल बाद बोला साहब में जिंदा हूं…

KISAN BOLA M JINDA HU
खबर शेयर करें

RANIKHET NEWS: उत्तराखंड के रानीखेत में एक गजब का मामला सामने आया। जहां एक जीवित किसान को सरकारी कागजों में मृत घोषित कर दिया गया, जिसके बाद लोगों में इसे लेकर गुस्सा देखने को मिला। रानीखेत के टूनाकोट गांव में जीवित किसान को मृत दिखाये जाने पर विभागीय कार्यप्रणाली की पोल खुल गई है। स्थानीय लोगों ने संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इधर ग्राम विकास अधिकारी ने कहा कि गलती कहां हुई पता लगा कर परिवार रजिस्टर को ठीक किया जायेगा।

टूनाकोट गांव के काश्तकार हरवंश सिंह को महत्वपूर्ण समझे जाने वाले परिवार रजिस्टर में पांच वर्ष पूर्व ही मृत दर्शा दिया गया है। हरबंस सिंह ने आवश्यकीय कार्य के लिए ग्राम विकास कार्यालय से परिवार रजिस्टर की नकल को आवेदन किया तो उन्हें मृत दिखाए जाने पर हरवंश के होश उड़ गए। उसे परिवार रजिस्टर में वर्ष 2017 में ही मृत दर्शा दिया गया है। जन्मतिथि में भी गड़बड़ी सामने आई है। किसान हरबंस सिंह के अनुसार महत्वपूर्ण परिवार रजिस्टर की नकल जैसे प्रपत्र में ही उन्हें मृत दर्शा दिया गया है जिससे वह पेंशन समेत कई अन्य लाभों से वंचित हो सकते हैं। परिवार के सदस्य भी प्रभावित हो सकते हैं। स्थानीय लोगों ने लापरवाही को गंभीर करार दिया है। ग्राम विकास अधिकारी नीता राणा के अनुसार किसान से संसोधन के लिए आवेदन मांगा जा रहा है। जल्द ही परिवार रजिस्टर को दुरुस्त किया जाएगा।

Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: (बड़ी खबर)- धामी मंत्रिमंडल में 18 प्रस्तावों पर लगी मुहर, देखिये पूरी खबर…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *