उत्तराखंड: 20 तोला सोना व दो बच्चों को लेकर आत्महत्या करने यहां पहुंची BSNL अधिकारी की पत्नी…

SUCIDE WOMEN UTTARAKHAND
खबर शेयर करें

ROORKI CRIME NEWS: इन दिनों उत्तराखंड मानो अपराधों के ग्रह हावी हो गये। सबसे बुरा हाल कुमाऊं के ऊधमसिंह नगर जिले का है। जहां पिछले चार दिनों से मौतों का सिलसिला जारी है। फिर वो हत्या हो या आत्महत्या। इसके बाद रूडक़ी का नंबर है जहां से आये दिन खबरें आ रही है। अब रूडक़ी बस स्टैंड पहुंची एक महिला ने सबको चौका दिया। महिला घर से 20 तोला सोना लेकर आत्महत्या करने हरिद्वार को चल दी। यहीं नहीं महिला के साथ उसके दो बच्चे भी थे। महिला का पति भारत संचार निगम लिमिटेड उत्तरप्रदेश में तैनात एक अधिकारी है। तभी ऐन मौके पर रूडक़ी पुलिस को खबर लगी तो उन्होंने महिला रोक दिया इसके बाद पति को बुलाया गया। आइये जानते है पूरा मामला…

Ad

बस चालक ने दिखाई सूझबूझ

पूरा मामला आज यानी बुधवार का है। यूपी रोडवेज की बस में एक महिला अपने दो बच्चों 10 वर्ष और 12 वर्ष के साथ बैठी थी। महिला को हरिद्वार जाना था। लेकिन रास्ते में सफर के दौरान चालक का महिला का व्यवहार अटपटा लगा। इसके बाद जैसे ही बस रुडक़ी बस स्टैंड पर पहुंची तो चालक ने बस अड्डे पर तैनात पुलिसकर्मी को बताया कि बस मेें एक महिला मानसिक रूप से काफी परेशान लग रही है। इसकी सूचना पुलिसकर्मी ने कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अमरचंद शर्मा को दी। उधर से प्रभारी निरीक्षक ने पुलिसकर्मियों से महिला को कोतवाली लाने को कहा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: दोस्त ही निकला हत्याकांड का मास्टर माइंड, ऐसे कर दी एक साथ चार लोगों की हत्या…

हरिद्वार जाकर गंगा में कूदने का प्लान

अब पुलिस बस के अंदर महिला के पास गई तो पता चला कि महिला के साथ उसके दो बच्चे हैं। महिला यूपी के गाजियाबाद में बीएसएनएल में तैनात एक अधिकारी की पत्नी है। ऐसे में बातें करते हुए वह भावुक हो गई बोली वह जिंदगी से परेशान है। इसके बाद पुलिस ने उसके बैग की तलाशी ली तो उसके अंदर करीब 20 तोले सोने के जेवरात मिले। बैग में जेवरात देख पुलिस के होश उड़ गये।

यह भी पढ़ें 👉  जम्मू: (बड़ी खबर)- नये साल पर मां वैष्णो देवी धाम में भगदड़, 12 की मौत..

गाजियाबाद से पति पहुंचा रूडक़ी

इसके बाद पुलिस ने उसे सख्ती से पूछा तो उसने बताया कि यह सब जेवरात उसके अपने हैं। वह जिदंगी से तंग आकर बच्चों समेत हरिद्वार गंगा में कूदने जा रही है। जेवरात व किसी मंदिर में दान दे देगी। उसकी बातें सुनकर पुलिसकर्मियों के होश उड़ गये। इसे बाद पुलिसकर्मी उसे कोतवाली ले आये। जहां पुलिसकर्मियों ने महिला को बहुत समझाया। इसके बाद महिला के पति को फोन कर रूडक़ी बुलाया गया। गाजियाबाद से महिला का पति रूडक़ी पहुंचा। महिला ने आगे से अपने पति को ऐसा कदम न उठाने का भरोसा दिया। इसके बाद पुलिस ने बच्चों और महिला को उनके पति के साथ भेजा गया।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *