हल्द्वानीः (शाबास)- खाई में गिरी दिल्ली के पर्यटकों की कार, देवदूत बनी काठगोदाम पुलिस ने बचाई जान…

खबर शेयर करें

Haldwani News: उत्तराखंड पुलिस हमेशा ही अपनी कार्यशैली के लिए चर्चाओं में रही है। कोरोनाकाल में घर-घर जाकर राशन पहुंचाना हो या फिर आपदा प्रभावित क्षेत्रों में रेस्क्यू हो। हमेशा ही मानवता की मिसाल पेश की है। अब खबर हल्द्वानी से है। जहां काठगोदाम पुलिस की हर कोई तारीफ कर रहा है। काठगोदाम थानाध्यक्ष प्रमोद पाठक ने नेतृत्व काठगोदाम पुलिस टीम ने तीन लोगों की जान बचाई। जिस तरह से पुलिस ने खाई में दिल्ली के पर्यटकों को बाहर निकला, उसे देख हर किसी ने पुलिस टीम की प्रशंसा की। आगे पढ़िये…

पुलिस ने अनुसार देर शाम दिल्ली से कैंची धाम मंदिर के दर्शन करने आये पर्यटकों की आई-20 कार वापस लौटते समय अचानक काठगोदाम के गुलाबघाटी क्षेत्र में अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे खाई में गिर गई। इस दौरान वहां गुजर रहे लोगों ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही बिना देर किये काठगोदाम थानाध्यक्ष प्रमोद पाठक अपनी टीम के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे। आगे पढ़िये…

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: हरेले पर्व के उपलक्ष्य पर विज्डम स्कूल ने किया में वृक्षारोपण

पुलिस ने देखा तो कार नीचे खाई में पलटी हुई। आनन-फानन में तीनों कार सवारों को पुलिस ने बाहर निकला। जिसमें पति-पत्नी और उनका बच्चा शामिल है। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम मोहित मिश्रा पुत्र विजय शंकर निवासी डी-11, संजय मोहल्ला, भजनपुरा नोएडा दिल्ली, प्रीति मिश्रा पत्नी मोहित और जितिशा मिश्रा पुत्र मोहित मिश्रा निवासी बताया। कार से बाहर निकालकर बच्ची को गोद में उठाया। फिर नदी पार कर सभी घायलों को पुलिस की गाड़ी से बृजलाल अस्पताल में भर्ती कराया। जिससे उनकी जान बच सकी। काठगोदाम पुलिस के इस कार्य की हर कोई तारीफ कर रहा है। ऐसे पुलिास द्वारा साहसिक कार्य के लिए एक सेल्यूट तो बनता है। इस दौरान पुलिस काठगोदाम थानाध्यक्ष प्रमोद पाठक के साथ प्रभारी चैकी मल्ला काठगोदाम टीम फिरोज आलम, एसआई मनोहर सिंह, एएसआई अरविंद सिंह, कानि लोकेश, संतोष, प्रमोद और करतार शामिल रहे।

Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]