कालाढूंगी: बोले भाजपा प्रत्याशी बंशीधर भगत भाजपा ने जो कहा वो कर के दिखाया…

BANSHIDHAR BHAGAT BJP
खबर शेयर करें

KALADHUNGI NEWS: कालाढूंगी विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी बंशीधर भगत ने अपना प्रचार तेज कर दिया है। मतदान में सिर्फ पांच दिन शेष बचे है ऐसे में भाजपा प्रत्याशी बंशीधर भगत लगातार जनसंपर्क कर रहे है। आज बारिश के बावजूद उन्होंने कई जगह जनसभाओं को संबोधित किया। लामाचौड़ में जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी बंशीधर भगत ने कहा कि भाजपा ने विकास किया है विकास करेंगी। जिस तरह से कालाढूंगी का विकास हुआ है। वह क्षेत्र की जनता के सामने है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः दिल को छूं जायेगा लोकगायक राजेन्द्र ढैला का गीत, तो सुनिए "मैं एक पहाड़ी छूं"

भाजपा प्रत्याशी बंशीधर भगत ने कहा कि आज बारिश के बावजूद भी इतनी बड़ी संख्या में आप लोग पहुंचे है, इससे साफ है कि एक बार फिर भाजपा प्रदेश में अपनी सरकार बनाने जा रही है। उन्हांने केंद्र की योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि देश में जितनी भी योजनाएं चलाई गई, उनका सीधा लाभ आमजन को मिल रहा है। वहीं राज्य स्तर पर धामी सरकार की कई योजनाओं को लाभ मिला है। उन्होंने कहा भाजपा ने जो कहा था वह कर के दिखाया। विपक्षियों ने क्या किया, इससे आप सब अवगत है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः शिक्षक ने डस्टर मारकर छात्रा का सिर फोड़ा, बाल-बाल बची आंख…
जनता को संबोधित करते विकास भगत।

उधर कालाढूंगी विधानसभा के कमोला में लोगों के बीच जाकर भाजपा प्रत्याशी बंशीधर भगत के सुपुत्र विकास भगत ने लोगों ने भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि कालाढूंगी विधानसभा में विधायक बंशीधर भगत ने कई विकास कार्य किये है। धमोला की बात करे तो यहां किसानों के लिए धमोला सिंचाई नहर, खिचड़ी नहर, अपर कोटा नहर पुनरोद्धार योजना आदि शामिल है। उन्होंने कहा कि आगे भी क्षेत्र में विकास के कार्य होंगे। इसके लिए आपको आगामी 14 फरवरी को कमल के निशान वाला बटन दबाकर भाजपा की सरकार बनानी है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानीः जापानी बुखार से सुशीला तिवारी अस्पताल में एक की मौत, एक और मरीज है भर्ती

इस अवसर पर पुष्कर चौहान, हरीश गुर्रो, भाजपा जिला कार्यकारिणी सदस्य कैलाश भगत, मोहन सती, पान सिंह भंडारी, ललित बधानी, नैन सिंह बर्गली, मोहन बिष्ठ, राजू बिष्ट, महिमन चौहान, हेमंत भट्ट, गौरव जोशी, शांति देवी, हेमा देवी, गोपाल बुढ़लाकोटी, जगत कोरंगा, विपिन बुढ़लाकोटी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *