अल्मोड़ा: सोमेश्वर क्षेत्र में तीन लोगों पर धारदार हथियार से हमला, प्रेम-प्रसंग के शक में प्रधानपति ने दिया वारदात को अंजाम…

SOMESHWAR KISHAN RAM
खबर शेयर करें

SOMESHWAR CRIME NEWS: अब शहरों से ज्यादा पहाड़ों में अपराध बढऩे लगे है। कुछ महीने पहले अल्मोड़ा जिले के सोमेश्वर क्षेत्र में एक युवक ने अपने प्रेमिका को मौत के घाट उतारने के बाद खुद भी मौत को गले लगा लिया था। अब सोमेश्वर तहसील के अंतर्गत ये दूसरी वारदात हुई है। जहां एक प्रधानपति ने पत्नी से प्रेम-प्रसंग के शक में पड़ोसी की गर्दन पर वार कर दिये। बचाव में आयी उसकी पत्नी और मां पर भी धारदार हथियार से हमला कर गंभीररूप से घायल कर दिया। जहंा से आनन-फानन में उन्हें अल्मोड़ा रेफर कर दिया गया लेकिन हालत गंभीर होने से उन्हें हल्द्वानी रेफर कर दिया गया है। वहीं पुलिस ने आरोपी प्रधानपति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: बाप ने किया सो रहे बेटे पर कुल्हाड़ी से वार, हालत गंभीर

किशन राम के गर्दन पर किया वार

जानकारी के अनुसार सोमेश्वर के ताकुला ब्लॉक सल्लाखाड़ी गांव निवासी किशन राम अपनी मां पनुली देवी व पत्नी विमला देवी के साथ सुबह करीब सात बजे घर के आंगन में बैठे थे। आरोप है कि तभी गांव की प्रधान का पति लक्ष्मण राम गड़ासा लेकर आया और उसने गड़ासे से ताबड़तोड़ प्रहार शुरू कर दिये। इस दौरान अचानक हुए हमले से किशन राम ने खुद के साथ मां व पत्नी को बचाने के प्रयास किया लेकिन प्रधानपति ने उसकी गर्दन व सिर पर धारदार हथियार से वार कर दिए।

यह भी पढ़ें 👉  Govt Job: डाक विभाग में निकली बंपर भर्ती, 10वीं पास कर सकते हैं आवेदन

किशन की हालत गंभीर

धारदार हथियार के वार से किशन की गर्दन काफी गहराई तक कट गई। खून बहने से वह सिर पर दोबारा चोट लगने के बाद किशन अपने आंगन में गिर पड़ा। बेटे को बचाने मां पनुली देवी व विमला देवी पहुंची तो हमलावर ने उन पर भी हमला कर दिया। दोनों के सिर पर गंभीर चोटे पहुंची। थोड़ी देर बाद आरोपी फरार हो गया। आनन-फानन में उन्हें अल्मोड़ा ले जाया गया लेकिन किशन राम की हालत गंभीर होने से उसे सुशीला तिवारी अस्पताल में रेफर कर दिया गया।

प्रेस प्रसंग का शक

अल्मोड़ा जिले के एसएसपी पंकज भट्ट का कहना है कि किशनराम की हालत गंभीर होने से उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया गया है। वहीं प्रधानपति लक्ष्मण राम पर मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है। चौकी प्रभारी सुरेंद्र सिंह रिंगवाल के अनुसार प्रधानपति को किशन राम के पुत्र पर उसकी पत्नी से प्रेमप्रसंग का शक था। इतनी बड़ी वारदात इसकी का नतीजा है। घायल किशन राम को नाजुक हालत में सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय हल्द्वानी रेफर किया गया। उसकी मां पनुली देवी का जिला चिकित्सालय में उपचार चल रहा है। वहीं पत्नी के सिर पर भी गंभीर चोटे आयी हैं।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *