उत्तराखंड: आप ने फुलाई भाजपा-कांग्रेस की सांसें, निगम चुनाव में अपनी धाक जमा चुके है नंदलाल…

NAND LAL AND MINSH SISODIYA AAP
खबर शेयर करें

RUDRAPUR NEWS: भाजपा-कांग्रेस को विधानसभा चुनावों से पहले लगातार झटके लग रहे है। एक तरफ भाजपा में अंदररूनी कलह खुलकर सामने आ रही है। जो अब जग जाहिर हो चुकी है। वहीं कांग्रेस में गुटबाजी हावी है। कांग्रेस दो धड़ों में बंटी है। दोनों पार्टियां चाहे लाख दांवे कर ले लेकिन उनके विकटों का पतझड़ लग चुका है। इसी क्रम में रुद्रपुर से कांग्रेस छोडक़र पूर्व मेयर प्रत्याशी व कांग्रेस प्रदेश सचिव नंद लाल आम आदमी पार्टी में शामिल हो चुके है। रुद्रपुर से भाजपा को बड़ा झटका लगा है।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा:(बड़ी खबर)-कमिश्नर को दिए सल्ट में अनुसुचित जाति के युवक की हत्या की जांच के आदेश, एससी आयोग एक्शन में

काशीपुर में हुआ जोरदार स्वागत

शनिवार को रामनगर रोड स्थित पार्टी कार्यालय काशीपुर में पहुंचने पर आप कार्यकर्ताओं ने नंदलाल का जोरदार स्वागत किया। इस मौके पर नंदलाल पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कहा कि आप के उत्तराखंड नव निर्माण संकल्प से प्रभावित होकर वह आम आदमी पार्टी में आए हैं। नंदलाल ने कहा कि राजनीतिक लोगों को जनसेवक बनकर जनता की जो सेवा करनी चाहिए, वह काम केवल आम आदमी पार्टी कर रही है।

NAND LAL AAP

मेयर चुनाव में नंदलाल को मिले थे 35000 वोट

नंदलाल का आम आदमी पार्टी में शामिल होना रुद्रपुर में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। रुद्रपुर नगर निगम के मेयर चुनाव में नंदलाल को 35000 वोट मिले थे। वह चुनाव परिणाम में दूसरे नंबर पर रहे थे। ऐसे में आप खुद अंदाजा लगा सकते है कि कांग्रेस को कितना बड़ा झटका लगा है। दो दिन पहले ही दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने नंद लाल को पार्टी की टोपी पहनाकर आम आदमी पार्टी की सदस्यता दिलाई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः भर्ती घोटाले पर आये नरेन्द्र नेगी ने नये गीत "लोकतंत्र मा" से किया नेताओं पर कटाक्ष, आप भी सुनिएं

कांग्रेस को बड़ा झटका

इस अवसर पर आप के प्रदेश उपाध्यक्ष दीपक बाली ने नंदलाल का पार्टी में आने पर स्वागत किया। बाली ने कहा कि नंदलाल एक शिक्षित और युवा है और उनमें समाज सेवा की सच्ची भावना है। जिस तरह से आम आदमी पार्टी लगातार प्रदेश में एक के बाद एक बड़े नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल कर रही है उससे साफ है कि सत्ताधारी भाजपा और विपक्ष में बैठी कांग्रेस की सांसें फूली हुई है। ऐसे में विधानसभा 2022 का चुनावी रण इस बार प्रदेश में सबसे अलग होने की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *