उत्तराखंड: दुल्हन प्रेमी संग फरार तो छोटी बहन से रचाई शादी, सात फेरों से पहले वह भी निकली नाबालिग

खबर शेयर करें

Bageshwar News: शादी से पहले दुल्हन के फरार होने की खबरें आपने बहुत पढ़ी होगी। लेकिन लोकलाज के भय से बचने के लिए दुल्हन पक्ष में छोटी बहन से दूल्हे की शादी तय कर दी। पर मामला लटक गया। इसकी खबर पुलिस को मिली तो शादी में पुलिस की एंट्री हो गई। जांच में छोटी बेटी नाबालिग निकली जिसके बाद पुलिस ने शादी रोक दी। खबर बागेश्वर जिले से है, जहां शुक्रवार को राजस्व पुलिस क्षेत्र अमसरकोट के सात रतबे गांव में पुलिस व वन स्टॉप सेंटर के कर्मचारियों ने एक नाबालिग की शादी रोक दी है।

यह भी पढ़ें 👉  IPL 2024: 9 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा, IPL में बुमराह ने रचा इतिहास...

छोटी बेटी निकली नाबालिग

पुलिस के अनुसार शुक्रवार को बागेश्वर जिले के दफौट क्षेत्र से एक बारात सात रतबे गांव में गई थी।ं बारात की रस्म पूरी होने की तैयारी चल रही थी। तभी पुलिस और वन स्टॉप सेंटर को सूचना मिली की यहां नाबालिग की शादी हो रही है। मौके पर पहुंची पुलिस व वन स्टॉप सेंटर की टीम ने दुल्हन के स्कूल के का गजातों की जांच की तो लडक़ी नाबालिग निकली। इसके बाद दुल्हन के परिजनों से शादी रोकने को कहा। परिजनों से लिखाया गया कि बेटी के बालिग होने पर ही बेटी की शादी करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  Big News: हल्द्वानी में बोले योगी, कांग्रेस के समय होती थी जातिवाद की राजनीति...

पुलिस ने रूकवाई शादी

नाबालिग दुल्हन के शादी का राज खुला तो पता चला कि शादी उसकी बड़ी बहन की थी, लेकिन शादी के कुछ घंटे पहले ही वह प्रेमी संग फरार हो गई। जिसके बाद पूरे गांव में लोकलाज बचाने की नौबत आ गई। ऐसे में परिजनों ने छोटी बेटी की शादी करने का मन बनाया लेकिन ठीक समय पर पुलिस पहुंच गई, छोटी बेटी नाबालिग निकली। जिसके बाद दूल्हे वाले बैरंग लौट गए हैं।

बड़ी बेटी प्रेमी संग फरार

बताया जा रहा है कि शादी में बड़ी बेटी का प्रेमी भी पहुंचा था, लेकिन किसी को अंदाजा नहीं था कि वह दुल्हन को भगा ले जायेगा। शादी से एक दिन पहले महिला संगीत में दुल्हन बनने जा रही बेटी ने जमकर ठुमके भी लगाये लेकिन सुबह होने तक वह प्रेमी संग फरार हो गई। बताया जा रहा है कि उसकी मुलाकात प्रेमी से फेसबुक पर हुई थी जहां से दोनों का प्यार परवान चढ़ा। दुल्हन पक्ष ने बेटी की गुमशुदगी दर्ज कराई है, जिसके बाद पुलिस मामले में जांच में जुट गई।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]

You cannot copy content of this page