उत्तराखंड:(शाबास भुली)-पहाड़ की बेटी आरुषि बनी पायलट, झूम उठा परिवार…

खबर शेयर करें

Paudi Gadhwal News: पहाड़ की बेटियां आज हर क्षेत्र में नाम कमा रही है। पहाड़ से निकलकर बेटियों ने आज नया इतिहास लिखा है। इससे पहले भी कई बेटियां ऊंचा मुकाम हासिल कर चुकी है। अब एक और बेटी ने आसमा छुआ है। जी हां… हम बात कर रहे हैं मूल रूप से राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले के भितांई गांव की रहने वाली आरुषि नेगी की, जो पायलट बन गई है। आरूषि की इस अभूतपूर्व उपलब्धि से जहां उनके परिवार में खुशी का माहौल है। वहीं उनके घर पर बधाई देने वालों का भी तांता लगा हुआ है। बीते दिनों जब वह पायलट बनने के बाद पहली बार अपने पैतृक गांव पहुंचीं तो न केवल ग्रामीणों ने पूरे हर्षोल्लास से उनका भव्य स्वागत किया बल्कि खुद को गौरवान्वित महसूस करते हुए ग्रामीणों ने मिठाई भी बांटी।

आपको बता दें कि आरुषि ने साल 2019 से कनाडा में रहकर ऑनर्स इन साइंस एंड एविएशन का डुएल डिग्री कोर्स किया था। जिसके बाद उन्हें पायलट का लाइसेंस मिल गया है। बताते चलें कि उनके पिता केशर सिंह नेगी जहां पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष है। पायलट बनने के बाद आरुषि ने बीते दिनों अपने गाँव पहुँचकर अपने ईष्ट देवता के दर्शन कर उनका आशीर्वाद लिया। इस अवसर पर आरुषी की मां हिमानी नेगी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि आरूषि बचपन से ही एस्ट्रोनॉट बनना चाहती हैं। आपको बता दें कि एस्ट्रोनॉट का मतलब खगोल यात्री या अंतरिक्ष यात्री होता है। अर्थात ऐसा व्यक्ति जो पृथ्वी के वायुमंडल से ऊपर जाकर अंतरिक्ष में प्रवेश करें उसे वैज्ञानिक भाषा में एस्ट्रोनॉट कहते हैं।

Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]