UTTARAKHAND NEWS: शिक्षकोंं ने सोशल मीडिया पर सरकार को कोसा तो होगींं कार्यवाही, माध्यमिक शिक्षा निदेशक सीमा जौनसारी का फरमान

SEEMA JONSARI UTTARAKHAND
खबर शेयर करें

UTTARAKHAND NEWS: माध्यमिक शिक्षा निदेशक सीमा जौनसारी ने आज सभी जिलों के मुख्य शिक्षा अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की। जिसमें उन्होंने अधिकारियों को कई निर्देश जारी किए 1 हफ्ते के भीतर प्रवक्ता पदों पर पदोन्नति करने के लिए गोपनीय आख्या शिक्षकों की मांग की गई है। जिससे कि प्रवक्ता पदों पर प्रमोशन होने वाले शिक्षकों को जल्द इसका लाभ दिया जा सके 15 दिन के भीतर शिक्षकों के लंबित प्रकरणों के निस्तारण करने के भी निर्देश माध्यमिक निदेशक ने सभी जिलों के मुख्य शिक्षा अधिकारियों को दिए हैं कोर्ट केस के मामलों का भी निस्तारण करने के निर्देश दिए गए। जिन मामलों का जवाब कोर्ट को दिया जाना है उनका जवाब तैयार करने के बाद सीमा जौनसारी ने कही।

सीमा जौनसारी का कहना है कि 15 दिन के बाद फिर से वह सभी मुख्य शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे और समीक्षा करेंगी कि जो निर्देश उन्होंने दिए थे उन पर कितना अमल अधिकारियों ने किया है । वही 22 जुलाई को 350 एलटी और प्रवक्ता शिक्षकों को डीपीसी का लाभ हेड मास्टर के पदों पर मिल जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  Govt Job: कॉन्स्टेबल और ट्रेड्समैन के पदों पर भर्ती, 10वीं पास करें आवेदन...

सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को दिए गए निर्देशों के तहत एक महत्वपूर्ण और सबसे बड़ा निर्देश माध्यमिक शिक्षा निदेशक की ओर से दिया गया। जिसके तहत सोशल मीडिया पर सरकार के खिलाफ सवाल उठाने पोस्ट लिखने का संज्ञान अधिकारियों के द्वारा लिए जाने को लेकर दिया गया है कि वह ऐसे शिक्षकों और कर्मियों पर नजर रखें जो सरकार की नीतियों के खिलाफ लिखते हैं ऐसे कार्मिकों पर अधिकारी नजर रखें और कर्मचारी आचरण नियमावली के तहत कार्यवाही करें लंबे समय से शिक्षा विभाग में इस बात पर चर्चा चल रही थी कि आखिर जो शिक्षक सरकार के बेवजह शिक्षा मुद्दों से इतर भी सरकार के खिलाफ नीतियों और सरकार के फैसलों की आलोचना करते हैं उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई क्यों नहीं करता, लेकिन अब लगता है  शिक्षा विभाग में निदेशक बदले जाने के बाद इस पर गंभीरता से अमल होने जा रहा है आखिर जो शिक्षक सरकार के खिलाफ पोस्ट करेंगे उनके खिलाफ विभाग कार्रवाई करेगा।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *