उत्तराखंड: सडक़ किनारे इस हाल में मिली नवजात, चीता पुलिस बनी फरिश्ता

childhoot
खबर शेयर करें

UTTARAKHAND NEWS: पिछले दिनों कई नवजातों के लावारिस हालत में छोड़े जाने की खबरें सामने आयी। अब फिर देर रात पुलिस को एक नवजात बच्ची सडक़ किनारे मिली। इस दौरान गश्त पर निकली चीता पुलिस के जवानों ने नवजात बच्ची को देखा और अस्पताल में भर्ती कराया। चिकित्सकों ने बताया कि नवजात पूरी तरह से स्वस्थ है और उसे निगरानी में रखा गया है।

Ad

सोमवार देर रात पुलिस के अनुसार नेपालीफार्म के पास करीब दो बजे गश्त कर रहे चीता पुलिस के जवान संदीप और सोमवीर की नजर सडक़ किनारे चादर में लिपटे शिशु को देखा। उन्होंने पास जाकर देखा तो चादर में नवजात बच्ची थी। बच्ची के लावारिस मिलने की सूचना रायवाला थाने को दी और वाहन मंगवाकर बच्ची को राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश भेजा।

Ad

जानकारी देते हुए रायवाला के थानाध्यक्ष अमरजीत सिंह रावत ने बताया कि बच्ची कुछ घंटे पहले जन्मी बच्ची सडक़ किनारे पड़ी ईंटों के पीछे रखी हुई थी। इस दौरान गश्ती टीम की सजगता से बच्ची की जान बच गई और उसे तत्काल अस्पताल ले जाया गया। मामले की छानबीन की जा रही है। नवजात को छोडऩे के कई मामले आ चुके है। फिलहाल यह बच्ची पूरी तहर से स्वस्थ्य है।

Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: खाई में गिरी कार, शादी की शॉपिंग कर लौट रहे एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *