उत्तराखंडः (गजब)- सरकारी ऑफिस बना दंगल का मैदान, एई और जेई के बीच चले लात-घूसे, जमकर हुई हाथापाई

do adhnikariyo m marpeet
खबर शेयर करें

Bazpur News: खबर ऊधमसिंह नगर जिले से है। इस बार जिले में कोई आपराधिक घटना नहीं बल्कि दो अधिकारियों के बीच दंगल की खबर है। जी हां जिसकी चर्चाएं अब पूरे प्रदेश मंें हो रही है। यहां जल संस्थान कार्यालय में तैनात एई व जेई के बीच आपसी बात को लेकर कहासुनी हो गई, कहासुनी इतनी बढ़ गई कि दोनों के बीच हाथापाई होने लगी और उनमें जमकर लाठी-डंडे चल गये। आगे पढ़िये…

नजारा किसी सरकारी आॅफिस का नहीं बल्कि दंगल के मैदान का हो गया। इस दौरान दोनों के बीच मारपीट में कुर्सी पर बैठी चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मी चपेट में आ गई, जिससे उसके एक हाथ में डंडा लगने से वह चोटिल हो गई। दंगल के बीच आनन-फानन उसे एक निजी चिकित्सालय ले जाया गया है। घटना के बाद जल संस्थान कार्यालय में काफी देर तक अफरा-तफरी का माहौल रहा। आगे पढ़िये…

यह भी पढ़ें 👉  नैनीतालः (बड़ी खबर)-जंगल में मिली लापता युवक की लाश, परिजनों में मचा कोहराम…

यह दंगल की खबर आज सुबह करीब 10 बजे की है। जेई प्रेम सिंह नैनवाल व एई बदरे आलम के बीच बाहर बरामदे में कुर्सी रखने को लेकर कहासुनी हो गई, ऐसे में बात हाथापाई तक पहुंच गई। दोनों में लाठी-डंडे चलने लगे। घटना के चलते कार्यालय में मौजूद कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। इसी बीच कार्यालय में दरवाजे के पास कुर्सी पर बैठी चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मी गुलैंची देवी पत्नी स्व.सुरेश चंद्र मारपीट की चपेट में आ गई जिसमें उसके एक हाथ में काफी चोटें आई हैं। घायल को कार्यालय में ही तैनात अन्य कर्मचारियों ने निजी अस्पताल पहुंचाया गया है। आगे पढ़िये…

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: अब निवास, आय, इन समेत प्रमाण-पत्रों पर नहीं लगाने होंगे अतिरिक्त दस्तावेज, पढ़िए पूरी खबर

वहीं दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर दे दी हैं।ं सहायक अभियंता बदरे आलम ने जेई पर शराब का सेवन करके कार्यालय आने व टोकाटाकी करने पर उनकी जाति को इंगित करते हुए अभद्रता का आरोप लगाया है। जबकि जेई ने भी एई बदरे आलम पर अधिकारी होने का रौव दिखाते हुए कर्मचारियों को डराने-धमकाने व जबरदस्ती बाहर रखी कुर्सी मेज हटवाने का आरोप लगाया है। खबर लिखे जाने तक किसी की ओर से मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *