उत्तराखंडः पिथौरागढ़ में देवर के इश्क में डूबी भाभी, ऐसे रची पति के खिलाफ खौफनाक साजिश…

खबर शेयर करें

Pithoragadh News: पहाड़ों में भी अपराधों ने अपने पांव पसारने शुरू कर दिये है। हालांकि इससे पहले भी कई मामले पहाड़ों में आते रहे है लेकिन पिथौरागढ़ में भाभी के प्यार में पागल देवर के साथ मिलकर पत्नी ने पति को ही ठिकाने लगाने की योजना बना डाली। जिसके बाद इसकी तहरीर पति ने पुलिस को दी। जब पुलिस पूरे मामले तक पहंुची तो पैरों तले जमीन खिसक गई। पत्नी ने ही अपने रिश्ते देवर के साथ मिलकर पति को ठिकाने लगाने योजना बनाई थी। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। आगे पैरा पढ़े…

आज पिथौरागढ़ पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि विगत 24 नवंबर को कैलाश नाथ निवासी केदार कॉलोनी पिथौरागढ़ ने अपने चचेरे भाई मनोज नाथ पुत्र कृष्ण नाथ निवासी ग्राम सेलीभीड़ा पोस्ट चमाली, पिथौरागढ़ व एक अन्य अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसके घर में घुसकर उसका गला घांेटकर जान से मारने का प्रसाया किया इसकी तहरीर पुलिस को दी। तहरीर के आधार पर कोतवाली पिथौरागढ़ में आरोपी मनोज नाथ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। जिसके बाद पुलिस ने पूरे मामले की जांच की तो पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गईं। आगे पैरा पढ़े…

यह भी पढ़ें 👉  UKPSC RESULT: PCS मुख्य परीक्षा का रिजल्ट जारी, अभ्यर्थी यहां देखें पूरी सूची...

इस दौरान पुलिस जांच में सामने आया कि कैलाश नाथ की पत्नी कविता देवी के कैलाश के चचेरे भाई मनोज नाथ के साथ प्रेम संबंध थे। ऐसे में कविता देवी व मनोज नाथ कैलाश नाथ को मारकर अपने रास्ते से हटाना चाहते थे। कवित ने मनोज नाथ व और उसके चचेरे भाई नवीन नाथ पुत्र अर्जुन नाथ निवासी ग्राम सेलीभीड़ा पो. चमाली पिथौरागढ़ के साथ मिलकर अपने पति कैलाश नाथ को मारने के लिए लखनऊ से बुलाया। इसके बाद 21 नवंबर की जान से मारने का प्रयास किया। एसपी पिथौरागढ़ लोकेश्वर सिंह के निर्देश के बाद आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम का गठन किया गया। सोमवार को पुलिस ने मनोज नाथ व नवीन नाथ व कविता देवी रोडवेज स्टेशन पिथौरागढ़ के पास से गिरफ्तार किया। जिसके बाद सभी आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया। जहां से 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

Ad
Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *