Uttarakhand News: फिर चर्चाओं में आये IAS दीपक रावत, छह दिन बाद भी नहीं संभाला UPCL के MD का पदभार सामने आयी ये वजह

DEEPAK RAWAT IAS UTTARAKHAND
खबर शेयर करें

Uttarakhand News: उत्तराखंड में हमेशा चर्चाओं में रहने वाले आइएएस दीपक रावत एक बार फिर सुर्खियों में है। हाल ही में शासन ने 24 आइएएस के तबादले किये जिसमें दीपक रावत का नाम भी शामिल था। आइएएस दीपक को ऊर्जा निगम और उत्तराखंड विद्युत पारेषण निगम (पिटकुल) के प्रबंध निदेशक के पद पर भेजा गया। लेकिन आज तक आइएएस दीपक रावत ने अपना पदभार नहीं संभाला।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः भर्ती घोटाले पर आये नरेन्द्र नेगी ने नये गीत "लोकतंत्र मा" से किया नेताओं पर कटाक्ष, आप भी सुनिएं

बता दें कि इससे पहले आइएएस दीपक रावत को हरिद्वार में कुंभ मेलाधिकारी बनाया गया था। सूत्रों की माने तो दीपक रावत नई जिम्मेदारी नहीं संभालने को लेकर ऊर्जा मंत्री डा हरक सिंह रावत से वार्ता कर चुके हैं। ऐसे में आशंका जतार्ई जा रही है कि उन्हें दूसरी जिम्मेेदारी दी जा सकती है। वहीं सूत्रों की मानें तो ऊर्जा मंत्री डा रावत विभाग में हुए फेरबदल से खुश नहीं है। ऐसे में दोनों निगमों के प्रबंध निदेशक पद पर तैनाती को लेकर नया पेच भी सामने आ रहा है। ऊर्जा निगम में प्रबंध निदेशक पद के लिए जल्द साक्षात्कार होने हैं। ऐसे में इस पद की जिम्मेदारी आइएएस को सौंपे जाने के औचित्य पर भी सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  श्राद्ध पितृ पक्ष: पितृदोष से मुक्ति के उपाय, बता रहे हैं पं.पवन डंडरियाल शास्त्री

खबर है कि इस मामले मेें जल्द फैसला लिया जा सकता है। इससे पहले सचिव राधिका झा से ऊर्जा विभाग का दायित्व हटाकर सचिव सौजन्या को सौंपा जा चुका है। लेकिन राधिका झा के अवकाश में होने के कारण सौजन्या ऊर्जा विभाग का एकतरफा दायित्व ले चुकी हैं। जिसके बाद हुए तबादलों में आइएएस दीपक रावत को ऊर्जा के दोनों निगमों का प्रबंध निदेशक बनाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *