Haldwani: कल उपराष्ट्रपति करेंगे बाबा नीम करौली के दर्शन, एप्पल, फेसबुक के संस्थापक व विराट-अनुष्का समेत कई सितारे हैं भक्त

खबर शेयर करें

Haldwani News: देश के उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ गुरूवार को यानी 30 मई को भवाली स्थित कैंची धाम मंदिर के दौरे पर आ रहे हैं। इससे पहले देश ही नहीं बल्कि विदेशों की महान हस्तियां बाबा के दर्शनों को उत्तराखंड के नैनीताल जिले में स्थित बाबा नीम करौली के आश्रम कैंचीधाम के दर्शन कर चुके है। उत्तराखंड के कुमाऊं में ही नहीं पूरे उत्तराखंड में बाबा के चमत्कारों को देख चुका है। उनके आगमन पर पुलिस ने हल्द्वानी से लेकर नैनीताल और भवाली तक रूट डायवर्जन किया है। एसएसपी प्रह्लाद नारायण मीणा ने बताया कि गुरूवार को रूट डायवर्जन सुबह 9 बजे से वीवीआईपी के वापस जाने तक लागू रहेगा। आइये जानते है बाबा की भक्तों की पूरी कहानी…

बाबा नीम करौली के भक्तों में न सिर्फ आम लोग बल्कि देश-दुनियां की कई बड़ी हस्तियां भी शामिल हैं। एप्पल कंपनी के संस्थापक स्टीव जॉब्स, फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग, हॉलीवुड अभिनेत्री जूलिया रॉबर्ट्स, क्रिकेटर विराट कोहली, अनुष्का शर्मा, चंकी पांडे, कॉमेडियन भारती समेत फिल्मी दुनियां और खेल के कई सितारे भी नीम करोली बाबा के दर्शन कर चुके हैं। बता दें कि साल 1974-76 के बीच एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स आध्यात्मिक यात्रा के लिए भारत पहुंचे थे। हालांकि जब तक स्टीव जॉब्स कैंची धाम पहुंचते बाबा समाधि ले चुके थे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानीः शहर की चोरनी युवती ने छीना महिला का बैग, पकड़ी गई तो खुला पुराना राज

स्टीव को कैंचीधाम से मिला एप्पल का लोगो

बताया जाता है कि स्टीव को एप्पल के लोगो का आइडिया कैंची धाम आश्रम से ही मिला था। कहते हैं कि बाबा नीम करोली को सेब बहुत पसंद थे और वह बड़े चाव से सेब खाया करते थे। इसी कारण स्टीव जॉब्स ने अपनी कंपनी यानी की एप्पल के लोगो के लिए कटा हुआ एप्पल चुना था। कैंची धाम आश्रम आने वाले हर भक्त की मनोकामना पूरी होती है। इसी तरह जब मार्क जुकरबर्ग फेसबुक को बेचने पर काफी असमंजस में थे। तब स्टीव जॉब्स ने जुकरबर्ग को भारत की आध्यात्मिक यात्रा पर जाने की सलाह दी।

बाबा के धाम से मार्क जुकरबर्ग को मिला फेसबुक आइडिया

जिसके बाद मार्क जुकरबर्ग एक महीने के दौरे पर जब भारत पहुंचे तो वह दो दिन कैंची धाम आश्रम में ठहरे थे। वहीं हॉलीवुड अभिनेत्री जूलिया रॉबर्ट भी अपने करियर में काफी परेशान चल रही थीं। तभी वह एक फिल्म ईट, प्रे, लव की शूटिंग के लिए भारत आई थीं। बताया जाता है कि एक्ट्रेस बाबा की तस्वीर देख इतना प्रभावित हुई थीं कि उन्होंने हिंदू धर्म अपना लिया था। मार्क जकरबर्ग ने पीएम मोदी से एक टाउन हॉल मीटिंग के दौरान कहा था, ‘ उन्होंने (जॉब्स) ने मुझसे कहा कि कंपनी के मिशन के रूप में मैं जो मानता हूं, उससे दोबारा जुड़ने के लिए मुझे इस मंदिर का दौरा करना चाहिए, जहां वह भारत में गए थे, जब वह ऐपल चाहते थे और इसके भविष्य के बारे में सोच रहे थे। ‘इसलिए मैं गया और मैंने लगभग एक महीने तक यात्रा की, और लोगों को देखा, कि लोग कैसे जुड़े हुए थे, और यह महसूस करने का मौका मिला कि अगर हर किसी के पास जुड़ने की मजबूत क्षमता हो तो दुनिया कितनी बेहतर हो सकती है मेरे लिए इस बात का महत्व प्रबल हो गया कि हम क्या कर हैं और ये कुछ ऐसा है जिसे मैंने पिछले 10 वर्षों में हमेशा याद रखा है क्योंकि हमने फेसबुक का निर्माण किया है। कैंची धाम में बाबा के दर्शनों के बाद जुकरबर्ग ने फेसबुक की स्थापना की थी, जो बात उन्होंने पीएम मोदी से भी शेयर की।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking: अरविंद केजरीवाल को मिली जमानत, कल आ सकते हैं तिहाड़ से बाहर

विराट-अनुष्का भी हैं बाबा के भक्त

भारतीय टीम के क्रिकेटर विराट कोहली भी वर्ल्ड कप में शानदार परफॉर्म कर अपने परिवार के साथ उत्तराखंड गए थे। विराट और अनुष्का शर्मा का उत्तराखंड से पुराना नाता है। जब भी उन्हें समय मिलता है तो यह कपल धार्मिक जगहों पर निकल जाते हैं। इसके बाद विराट ने जिस तरह से अपने पुराने फॉर्म में वापसी की, उसे देख उनके फैंस भी काफी खुश हैं। साथ ही विराट का कॉन्फिडेंस भी वापस आ गया है। तब से कहा जाता है कि शायद एक्ट्रेस ने अपने पति विराट की फॉर्म लौटने की मनोकामना मांगी थी। जिसके बाद यह कपल कैंची धाम पहुंचा था।

यह भी पढ़ें 👉  UKPSC: PCS परीक्षा का नोटिफिकेशन जारी, इस दिन होगी प्रारंभिक परीक्षा

कहा स्थिति है कैंची धाम मंदिर

बता दें कि यह मंदिर उत्तराखंड में मौजूद कैंचीधाम मंदिर नैनीताल जिले के भवाली में स्थित है जो नैनीताल-अल्मोड़ा मार्ग पर पड़ता है। नैनीताल से इस मंदिर की दूरी 17 किमी तो वहीं भवाली से 9 किमी दूर है। हर साल 15 जून को कैंची धाम के बड़े मेले का आयोजन किया जाता है। इस मेले में शामिल होने के लिए दूर-दूर से भक्त कैंचीधाम पहुंचते हैं। हर साल लाखों भक्त बाबा के दर्शनों को कैंचीधाम आते है। इस बार फिर आगामी 15 जून को बाबा के धाम मेले की तैयारी में नैनीताल जिला प्रशासन जुट चुका है। जिससे देश-विदेश से आने वाले भक्तों को कोई परेशानी न हो। नैनीताल की जिलाधिकारी वंदना सिंह ने बकायदा मेले की तैयारियों को लेकर हाल में ही मंदिर परिसर का जायजा लेकर, यातायात से लेकर पार्किंग तक की व्यवस्था के निर्देश दिये गये है। जिस तरह से पिछले कुछ सालों से देश और विदेश से भक्तों का सैलाब बाबा दर्शनों को उमड़ रहा है। उसे देखते हुए इस बार भी लाखों की संख्या में भक्त बाबा नीम करौली के दर्शनों को पहुंचेगे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]