हल्द्वानी: शहादत को हादसा बताकर आतंकियों की मदद करना चाहते हैं कृषि मंत्री: बल्यूटिया

खबर शेयर करें

Haldwani News: उत्तराखण्ड कॉंग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने कृषि एवं उद्यान मंत्री गणेश जोशी के बयान “ इंदिरा और राजीव की मृत्यु शहादत नहीं हादसा” पर तीखी प्रतिक्रिया करते हुए कहा कि किसी बेजुबान घोड़े को पीट-पीट कर हत्या कर देने वाले गणेश जोशी क्या जाने शहादत क्या होती हैं। जिस पार्टी के किसी नेता ने देश के लिए शहादत ही नहीं दी वो बताने चले शहादत क्या होती है।

बल्यूटिया ने कहा आतंकियों के हमलों को महज हादसा बताकर गणेश जोशी आईपीसी की मामूली धाराओं में उपराध दिखाकर आतंकियों को मदद स्वरूप कम सजा दिलाकर उनकी मदद करना चाह रहे है।जिसकी भारतीय खुफिया एजेंसी से जाँच कराई जानी चाहिए और जाँच पूरी होने तक उन्हें मंत्री पद से बर्खास्त किया जाना चाहिए। ऐसे बयान देकर गणेश जोशी ने देश व उन वीर शहीदों का अपमान किया जिन्होंने आतंकी हमलों में अपनी जान दे दी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:(बड़ी खबर)- कल हल्द्वानी से काठगोदाम को जाने वाला मार्ग रहेगा बंद, यहां से जायेंगे वाहन

बल्यूटिया ने कहा ऐसी दूषित मानसिकता का नेता उत्तराखण्ड की जनता का प्रतिनिधि होने लायक नहीं है। गणेश जोशी के इस दूषित मानसिकता वाले बयान से न सिर्फ स्व इंदिरा गांधी जी और स्व राजीव गांधी की शहादत का अपमान हुआ है बल्कि इस देश के लिए आजादी एकता और अखण्डता के लिए शहादत देने वाले महात्मा गांधी , चंद्रशेखर आजाद , भगत सिंह ,सुखदेव ,राजगुरू और अशफाक उल्ला खां समेत उन समस्त शहीदों का अपमान हुआ है। जिन्होंने इस देश की रक्षा करते हुए सीमा पर अपनी शहादत दी है। भारत का बच्चा बच्चा जानता है कि इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने इस देश की अखण्डता को अक्षुण्ण रखने के लिए अपनी शहादत दी थी। गणेश जोशी के इस बयान से समस्त भारतवासी और उत्तराखण्डवासियों की भावनाएं आहत हुई है।मुख्यमंत्री को दूषित मानसिकता वाले मंत्री को तुरंत मंत्रीमंडल से बाहर करना चाहिये।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]