हल्द्वानी: गोपुली सटके लिगो चोरा… पर थिरके दर्शक, उत्तराखंड महोत्सव में लोकगायक रमेश बाबू ने बांधा समा….

SINGER RAMESH BABU GOSWAMI
खबर शेयर करें

HALDWANI NEWS: शीशमहल रामलीला मैदान में उत्तराखंड महोत्सव के कार्यक्रम में देर रात तक लोकगायकों ने समद्म बांध दिया। इसके अलावा रंगारंग कार्यक्रमों ने लोगों को दिल जीत लिया। उत्तराखंड के सुर सम्राट स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी के सुपुत्र सुपरस्टार लोकगायक रमेश बाबू गोस्वामी ने अपने सुरों में लोगों को थिरकने पर मजबूर कर दिया। इससे पहले कार्यक्रम का शुभारंभ पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने किया। पूर्व सीएम हरीश रावत ने मंच पर उतरकर दमाऊ बजाया। हरदा हर बार की तरह अलग अंदाज में नजर आए।

इसके बाद आये कलाकारों में लोक गायिका माया उपाध्याय, गायक बिशन सिंह हरियाला ने कई कुमाऊंनी गीत गाये। मंच पर आते ही सुपरस्टार लोकगायक रमेश बाबू गोस्वामी ने दर्शकों में जोश भरते हुए गोपुली चायखाना बयाला लै रियू नौ बिसी ने नौ ओड़ा गीत से अपने पिता स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी की पुरानी यादें ताजा कर दी। उनके इस गीत पर पूर्व सीएम हरीश रावत भी झूम उठे। वहीं लोग मंच के आसपास जमकर थिरके। एक ओर जहां लोकगायक रमेश बाबू ने अपने पिता स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी की यादें ताजा की, वही दूसरी ओर पुराने गीतों को नये अंदाज में गाकर दर्शकों का दिल जीत लिया।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा: (बड़ी खबर)- बागेश्वर और पिथौरागढ़ को जाने वाले यात्री पढ़ ले ये खबर, दो दिन तक रूट हुआ डायवर्जन…

रमेश बाबू ने गोपुली के अलावा कमला की भोई, तिलगा तेरी लंबी लटि गाकर दर्शकों को जमकर थिरकाया। रमेश बाबू के फैंस लगातार उनके साथ सेल्फी लेते नजर आये। रमेश बाबू गोस्वामी ने अपने पिता स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी की विरासत को आगे बढ़ाते हुए उत्तराखंड के संगीत को एक नये मुकाम पर पहुंचाया है। इससे पहले चम्पावत के छोलिया दल ने ढोल-दमाऊ व मशकबीन की धुन से लोगों का दिल जीता आयोजक निर्मला जोशी ने अतिथियों स्वागत किया। पूर्व सीएम हरीश रावत ने सभी कलाकारों को सम्मानित किया।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *