हल्द्वानी: uksssc भर्ती घोटाले की हो सीबीआई जांच: डिंपल पांडेय

खबर शेयर करें

Haldwani News: समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष डिंपल पांडेय ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि जिस तरह प्रदेश में uksssc भर्ती घोटाला हुआ है। वह उत्तराखंड पर एक कलंक है। इस घोटाले की पूरे देश में चर्चा हो रही है। उन्होंने कहा कि यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में भाजपा नेता व जिला पंचायत सदस्य हाकम सिंह रावत को गिरफ्तार किया गया है। एक छोटे नेता का इतने बड़े मामले में फंसने से बात गले से नीचे नहीं उतर रही है। इसके पीछे कई बड़े सफेदपोश और अधिकारी भी शामिल है। यह मामलों लाखों का नहीं करोड़ों का है। इसकी जांच होनी चाहिए। केन्द्र और राज्य में डबल इंजन की सरकार होने के बावजूद भाजपा में भ्रष्टाचार चरम पर है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand: (बड़ी खबर)- उत्‍तरकाशी में एवलांच से 8 की मौत, भारी बर्फबारी के कारण 20 फंसे...

डिंपल पांडेय ने कहा कि हमेशा दूसरों पर भ्रष्ट्राचार का आरोप लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी सबसे पहले अपने गिरेबान में झांके। खुद उनकी पार्टी के नेता भ्रष्ट है। भाजपा नेता और उत्तरकाशी जिले के मोरी गांव का जिला पंचायत सदस्य हाकम सिंह रावत करोड़ों का घोटालेबाज निकला। भाजपा उसेे पार्टी से निष्कासित कर अपना पला झाडऩे में लगी है, जबकि हकीकत यह है कि हाकम सिंह इस घोटाले में अकेला नहीं है। कई अधिकारी और सफेदपोश उसके करीबी है। उन्होंने कहा कि पेपर लीक मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए। साथ ही हाकम सिंह रावत के अलावा उसके करीबी नेताओं की संपत्ति की जांच भी होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः खाना पैक कराने गये चार दोस्तों को जमकर पीटा, मरा समझकर फरार हुए हमलावर

युवाओं को रोजगार का लॉलीपॉप देने वाली भाजपा ने आज लाखों युवाओं का भविष्य पेपर लीक कर बर्बाद कर दिया है। प्रदेश के युवाओं का भविष्य बर्बाद कर भाजपा सरकार अब खुद वाहवाही लूटना चाह रही है। आज 21 साल बाद भी उत्तराखंड के लोग अपने को ठगा हुए महसूस कर रहे है। प्रदेश की डबल इंजन सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है। अपनी सरकार को जीरो टॉलरेंस की सरकार कहने वाली त्रिवेन्द्र सरकार से भ्रष्टाचार की शुरूआत हुई जो वर्तमान में धामी सरकार तक जारी है। हाकम सिंह जैसे छोटे नेताओं का नाम सामने आने पर बड़े नेता अपने आप को बचाने में जुटे है, जो प्रदेश के होनहार युवाओं के साथ धोखा है। आज भाजपा नेता 12 से 15 लाख रूपये लेकर भ्रष्टाचार की सीमा लांच चुके है, गरीब और मेहनती छात्रों का भविष्य अधर मेंं है। इस भ्रष्टाचार का जवाब जनता आने वाले समय में भाजपा को सूत समेत देगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में हुई हर भर्ती की सीबीआई जांच होनी चाहिए। जिससे युवाओं के साथ न्याय हो सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *