अल्मोड़ाः (Big News)-अनुसूचित जाति के नेता जगदीश हत्याकांड में बड़ा खुलासा, यहां की गई हत्या

JUAGSIHS MURDER ALMORA
खबर शेयर करें

Jagdish Murdur Almora: अल्मोड़ा जिले भिकियासैण में अंतरजातीय विवाह करने वाले उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के अनुसूचित जाति के नेता जगदीश चंद्र की हत्या मामले में नया खुलासा हुआ है। जिसके बाद पुलिस भी हैरान है। पूछताछ में पता चला कि हत्यारोपियों ने जगदीश का अपहरण करने के बाद सीलापानी के एक घर में शव को छिपाया था। जहं उसकी बेरहमी से पिटाई कर हत्या की गई थी। इस खुलासे के बाद आज एसएसपी ने वारदात वाली जगह पहुंचकर बारीकी से जांच की। आगे पढे…

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः मैसेज में आया लिंक, खोला तो फौजी के खाते से उड़ गये दो लाख

गौरतलब है कि विगत एक सितंबर को अल्मोड़ा जिले के भिकियासैंण में उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के अनुसूचित जाति नेता जगदीश चंद्र का अपहरण कर लिया गया था। आरोपियों ने उसी दिन उसकी हत्या कर दी थी। इधर जब पुलिस को जगदीश के अपहरण की सूचना मिली तो वह तलाश में जुट गई। पुलिस को एक वैन में उसकी लाश मिली थी। इस दौरान वैन में हत्यारोपी उसका सुसर, साला और सास भी थी। इन तीनों ने जगदीश की हत्या करने की बात कबूल की थी। आगे पढे…

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः फाइनेंस कर्मी ने उठाया आत्मघाती कदम, सुसाइड नोट से खुला राज…

हत्यारोपी सुसर जोगा सिंह ने बताया था उसकी सौतेली बेटी गीता और जगदीश में प्रेम संबंध थे। दोनों ने घर से भागकर शादी कर ली थी। दोनों ही अलग-अलग जाति के थे। बेटी के इस फैसले से वह नाराज थो। जिसके कारण उन्होंने दोनों की हत्या की योजना बनाई और जगदीश की हत्या कर दी। लेकिन गीता हाथ नहीं लग सकी, इसलिए वह बच गई। आगे पढे…

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: अंकिता व प्रिया को न्याय दिलाने की मांग पर व्यापारियों का हल्दूचौड़ बंद

पूछताछ में पता चला कि जगदीश का अपहरण कर आरोपियों ने उसे सीलापानी के एक कमरे में अधमरा कर छिपा दिया था। जोगा सिंह अचेत अवस्था में पड़े जगदीश की पहरेदारी में बैठा था, जबकि इस बीच तीन लोग गीता को ढूंढते अल्मोड़ा आए थे। लेकिन वह गीता को यहां से नहीं ले जा सकें। देर शाम तीनों वापस सीलापानी पहुंचे। इसके बाद जगदीश को इतना पीटा की उसकी मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *