उत्तराखंड: (शाबास)- छोटी-सी उम्र में हल्द्वानी के दो छात्रों ने पाया बड़ा मुकाम, अंग्रेजी साहित्य रच बजाया अपनी प्रतिभा का डंका

HARSHIT AND PARINITA
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Haldwani: एक बार फिर शहर के दो छात्रों ने अपने माता-पिता के साथ ही जिले का नाम रोशन किया है। हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के दो छात्रों ने अंग्रेजी भाषा में साहित्य लेखन से अपनी प्रतिभा की धाक जमाई है। किताबें प्रकाशित होने के बाद शिक्षक, छात्र व दोस्तों के शुभकामना संदेश मिलने से दोनों का खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

Ad

लेखक हॢषत त्रिपाठी एवं परिणिता कापरी अंग्रेजी साहित्य जगत में पदार्पण कर चुके हैं। आर्यमान विक्रम बिड़ला इंस्टीट्यूट आफ लर्निंग के छात्रों ने अपनी शिक्षा जारी रखते हुए लेखन का कार्य भी कर डाला। दोनों छात्रों ने अपनी पहली पुस्तक प्रकाशित करने का स्वप्न साकार कर दिखाया। दोनों की पुस्तक नोशन पब्लिकेशन ने प्रकाशित की है। इंटरमीडिएट के विद्यार्थी हर्षित त्रिपाठी ने इलेप्सड पुस्तक की रचना की है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: गन्ना सेंटर में घर के बाहर छिपे बदमाश ने युवक को मारी गोली, हालत गंभीर…

वहीं परिणीता कापरी कक्षा 10वीं की छात्रा हैं। पूर्व सैनिक भगवान सिंह व पूनम कापरी की बेटी हर्षिता को लेखन की प्रेरणा रस्किन बॉन्ड से मिली। परिणीता की पुस्तक अ परफेक्टली इंपरफेक्ट विजिट उनकी स्मृति और कल्पना पर आधारित है। केंद्र में शहर एवं गांव की लडक़ी के अंतरद्वंद को दिखाया गया है। परिणिता के जीवन का लक्ष्य सफल डा. के साथ लेखिका बनना है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *