उत्तराखंड: एसटीएफ को मिली बड़ी सफलता, 7 अवैध तमंचों के साथ हथियारों का सौदागर गिरफ्तार

CIRME NEWS UTTARAKHAND
खबर शेयर करें

Udham Singh Nagar News:उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा एसएसपी एसटीएफ के मार्गदर्शन में लगातार अवैध हथियारों की तस्करी के विरूद्ध अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के चलते उत्तराखण्ड एसटीएफ की एक टीम उत्तर प्रदेश – उत्तराखण्ड के सीमावर्ती क्षेत्रों में सक्रिय है। पिछले कुछ दिनों में हथियारों की तस्करी का इनपुट मिलने पर सीओ एस टीएफ डाँ. पूणिर्मा गर्ग द्वारा निरीक्षक एमपी सिंह के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। पिछले कुछ दिनों से इस पर कार्य करने के बाद आज एसटीएफ व थाना पन्तनगर पुलिस टीम द्वारा संयुक्त कार्यवाही कर थाना पन्तनगर क्षेत्रान्तर्गत शान्तिपुरी गेट के पास किच्छा रोड से एक हथियारों के सौदागर विक्रम सिंह उर्फ विक्की को गिरफ्तार किया गया। जिसके कब्जे से 07 तमंचे 315 बोर अवैध बरामद हुए ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: मोदी सरकार में गरीबों पर महंगाई की मार, आटे पर जीएसटी लगाकर छीना गरीबों का निवाला: डिंपल पांडेय

गिरफ्तार युवक यह तमंचे तस्करी के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश के एटा से लाया है और पूर्व में भी कई बार उत्तराखंड में हथियारों की सप्लाई कर चुका है। युवक का अपराधिक इतिहास के संबंध में जानकारी की जा रही है । अभियुक्त से उत्तराखण्ड में वैपन्स की सप्लाई के सम्बन्ध में विस्तृत पूछताछ जारी है । उक्त मामले के खुलासे में आरक्षी गोविन्द सिंह बिष्ट की विशेष भूमिका रही । इससे पूर्व एसटीएफ टीम द्वारा 28 जनवरी को काशीपुर क्षेत्र से 05 असलाह , 20 फरवरी को पुल भट्टा क्षेत्र से 07 असलाह , 14 जुलाई को काशीपुर के कुंडेश्वरी क्षेत्र से पंजाब के तीन गैंगस्टरओं को गिरफ्तार कर उनके पास से दो ऑटोमेटिक पिस्टल व 70 कारतूस , 31 अगस्त को सितारगंज क्षेत्र से 04 असलाह बरामद किए जा चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand: मौसम विभाग का यलो अलर्ट, कुमाऊं के तीन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह द्वारा बताया गया कि उत्तराखंड एसटीएफ की हथियारों के तस्करों के विरुद्ध यह पांचवी बड़ी कार्रवाई है । रामद वेपन बिल्कुल नए हैं और तस्करी के लिए ही लाये गए हैं क्योंकि चुनाव नजदीक है ऐसे में एसटीएफ द्वारा हथियारों की तस्करी पर विशेष नजर रखी जा रही है । उत्तराखंड उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में इस तरह की गतिविधियां पूर्व से ही होती रही है। अवैध हथियारों के तस्कर एसटीएफ के रडार पर हैं इनके विरुद्ध आगे भी कार्रवाई होती रहेगी।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *