गांधी जयंती पर विशेष: गाँधी सा चलना है…

Ad
खबर शेयर करें

गाँधी सा चलना है,
गाँधी सा बनना है।
सादा जीवन उच्च विचार,
अहिंसा, सत्य हृदय में धार।
पग बाधा पार उतरना है।
गाँधी सा बनना है।
लाठी लेकर साहस की,
ऐनक बुद्धिवाला।
कदमताल कर चलता है,
संज्ञा मतवाला।
मिलजुलकर हमें बढ़ना है,
गाँधी सा बनना है।
देश धर्म जाति के हित,
तूफानों से लड़ना है।
गाँधी सा बनना है।
गाँधी सा चलना है।
डॉ संज्ञा।।

Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  Big breaking: महाराष्ट्र के गवर्नर का पद छोड़ना चाहता हूं, भगत सिंह कोश्यारी ने पीएम मोदी से जताई ये इच्छा...

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *