उत्तराखंड: चंपावत में घास लेने गई महिला को बाघ ने बनाया निवाला, इस हाल में मिली लाश…

GULDAR ATTACE RANIKHET WOMEN DEATH
खबर शेयर करें

CHAMPWAT NEWS: पहाड़ों में गुलदार का आंतक हर समय रहता है। अधिकांश जानवरों को अपना शिकार बनाते है। लेकिन कभी-कभी यह मानव को भी अपना शिकार बना लेते है। अभी तक पहाड़ में ऐसे कई मामले सामने आ चुके है। अब खबर चंपावत के ढकना गांव से है जहां एक महिला को गुलदार ने अपना निवाला बना लिया। घटना की जानकारी वन विभाग को दी गई। मौके पर पहुंची वन एवं राजस्व विभाग की टीम ने महिला का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। महिला की मौत के बाद घर में कोहराम मच गया।

Ad

जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह नौ बजे ढकना गांव की मीना नरियाल पत्नी रमेश सिंह नरियाल अन्य महिलाओं के साथ जंगल में घास काटने गई थी। तभी झाड़ी में घात लगाए गुलदार ने महिला पर झपट्टा मार दिया। मौके पर हो हल्ला मच गया। गुलदार उसे घसीटता हुआ ले गया। हो हल्ला सुनकर भेड़ों को चरा रहा एक युवक गुलदार की ओर भागा। उसके कुत्तों ने भी भौंकना शुरू कर दिया। हल्ला होने के बाद गुलदार महिला को छोडक़र भाग गया।

Ad

इसके बाद कुछ महिलाएं घर ही ओर भागी। गांव के लोगों को गुलदार के हमले की जानकारी दी। सूचना मिलते ही ग्रामीण जंगल की ओर दौड़ पड़े। वहीं वन विभाग को भी सूचना दी गई। सूचना पर रेंजर हेम चंद्र गहतोड़ी के नेतृत्व में वन विभाग और राजस्व विभाग की टीम भी घटना स्थल पर पहुंच गई। वन पंचायत बलाई के झड़पतियां इलाके से महिला का क्षत विक्षत शव बरामद कर लिया। ढकना के पूर्व प्रधान विनोद चौधरी ने वन विभाग व प्रशासन से गुलदार को जल्द से जल्द पकडऩे की मांग की।

Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पहाड़ की एक और बेटी ने बढ़ाया देवभूमि का मान, भारतीय सेना में बनी लेफ्टिनेंट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *