उत्तराखंडः पहाड़ में घर के आंगन में खेल रहा था मासूम, उठा ले गया गुलदार…

खबर शेयर करें

Gangolihat News: पहाड़ों में गुलदार का आतंक जारी है। अब गंगोलीहाट के कोठेरा गांव में गुलदार ने दो साल के मामूम को अपना निवाला बना डाला। घर से करीब आधा किमी दूर मासूम घायल अवस्था में मिला, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले उसने दम तोड़ दिया। घटना से क्षेत्र में दहशत फैल गई है। ग्रामीणों ने गुलदार को पकड़ने की मांग की है। आगे पढ़िए…

जानकारी के अनुसार गंगोलीहाट के कोठेरा गांव में दो वर्ष का अंशु अपनी मां के साथ ननिहाल में रह रहा था। उसके पिता सुरेश हरिद्वार में नौकरी करते हैं। बताया जा रहा है कि सोमवार शाम करीब चार आंगन में खेल रहे अंशु को गुलदार उठा ले गया। आंगन में खून देख और वहां बच्चे को न देख परिजनों को अनहोनी की आशंका हुई। गांव के युवा उसकी खोज में जंगल की ओर दौड़े। घर से करीब आधा किमी दूर उन्हें बच्चा घायल अवस्था में मिला। आगे पढ़िए…

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानीः मास्टर माइंड अब्दुल मलिक की बढ़ी मुश्किलें, 13 बीघा जमीन, 500 पेड़, निगम का नोटिस…

आंगन में अंशु के नहीं दिखाई देने पर परिवार के लोगों ने शोर मचाया। शोर सुनकर गांव के युवा लोग पहुंचे और जंगल की ओर भागे। घर से करीब आधा किमी दूर जंगल में मासूम घायल अवस्था में मिला। युवकों ने बताया कि उस समय मासूम की सांसें चल रही थी। तत्काल युवा बच्चे को निजी वाहन से स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। जहां डाॅ. मयंक पहावा ने उसे मृत घोषित कर दिया। गुलदार ने बच्चे के सिर, गले में गहरे घाव किए थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा की कार्रवाई शुरू की। घटना के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है। आगे पढ़िए…

यह भी पढ़ें 👉  Health Tips: क्या है पीरियड्स आने की सही उम्र, लड़कियों को जानकारी होनी जरूरी…

घटना की सूचना वन विभाग को दी गई। सूचना मिलते ही वन क्षेत्राधिकारी मनोज सनवाल के नेतृत्व में वन विभाग की टीम घटनास्थल पर पहुंचे। वन क्षेत्राधिकारी सनवाल ने बताया कि गुलदार को पकड़ने के लिए मंगलवार को क्षेत्र में पिंजरा लगाया जाएगा और वन विभाग की टीम लगातार गश्त करेगी।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *