उत्तराखंड: पहाड़ की बेटी आयुषी बनी सेना में लेफ्टिनेंट, माता-पिता ने लगाए कंधे पर स्टार

खबर शेयर करें

Uattarkashi News: बेटियां लगातार उत्तराखंड का नाम रोशन कर रही है। खासकर पहाड़ी जिलों से बेटियों ने उत्तराखंड का मान बढ़ाया है। आज बेटियां हर क्षेत्र में अपना परचम लहरा रही है। अब  उत्तरकाशी जिले के विकासखंड नौगांव मुख्यालय निवासी आयुषी रावत की, जो कि 11 माह के प्रशिक्षण के बाद अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी चेन्नई तमिलनाडु से पास आउट होकर भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गई है। बता दें कि आयुषी के पिता डीएस रावत फल प्रसंस्करण यूनिट के प्रभारी हैं वही माता आशा रावत जूनियर हाई स्कूल खांसी में शिक्षिका है।

आयुषी की प्रारंभिक शिक्षा सरस्वती शिशु मंदिर मुंगरा से हुई । इसके पश्चात 12वीं तक की पढ़ाई आयुषी ने देहरादून से पूर्ण की। 12वीं के बाद आयुषी ने इलेक्ट्रॉनिक से बीटेक किया। बीटेक करने के बाद वर्ष 2021 में आयुषी का चयन सीडीएस के माध्यम से लेफ्टिनेंट के पद पर हो गया। बताते चलें कि ट्रेनिंग पूरे होने के पश्चात अब आयुषी भारतीय सेना लेह में लेफ्टिनेंट के पद पर अपनी सेवाएं देंगी। आयुषी के लेफ्टिनेंट बनने पर उनके माता-पिता का सर गर्व से ऊंचा हो गया वही क्षेत्र मे भी खुशी की लहर है। आयुषी के पिता डीएस रावत और माता आशा रावत ने कहा कि बेटी का सेना में लेफ्टिनेंट बनना हमारे लिए गौरव की बात है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः सीएम धामी ने किया गौरव योजना और मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा शोध प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ…

Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *