उत्तराखंड: पुराने गद्दों के चक्कर में लग गया 93 हजार का चूना, ठगी का नया तरीका…

खबर शेयर करें

Dehradun News: ठगों ने ठगी के नये नये तरीके निकाल लिए है। अब तो लोग फूंक फूंक कर कदम रख रहे है । क्या पता कब और कहा चुना लग जाय। लेकिन इसके बावजूद कई लोग ठगों के जाल में फंस रहे है। अब पुराने गद्दे बेचने के चक्कर में एक महिला ठगी का शिकार हो गई। ओएलएक्स पर ग्राहक बनकर महिला से साढ़े पांच हजार रुपये में सौदा किया। इसके बाद क्यूआर कोड भेजकर 93 हजार रुपये खाते से निकाल लिए। एकाउंट से पैसे कटने के बाद महिला को ठगी का अहसास हुआ। जिसके बाद महिला ने पुलिस में शिकायत की। शिकायत पर साइबर थाना पुलिस ने जांच की। इसके बाद वसंत विहार थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: खाने में नॉनवेज के बजाय बीबी ने बनाई दाल तो जमकर की धुनाई, फिर ऐसे किया हाई वोल्टेज ड्रामा

जानकारी के अनुसार तृप्ति निवासी शिव विहार, महारानी बाग ने 12 अक्तूबर को अपने पुराने गद्दे बेचने के लिए ओएलएक्स पर विज्ञापन अपलोड किया था। थोड़ी देर बाद उन्हें एक कॉल आई। उसने खुद का नाम समीर सक्सेना बताया और गद्दे खरीदने को साढ़े पांच हजार रुपये में सौदा कर लिया। सक्सेना ने बताया कि वह ऑनलाइन रुपये भेज रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: हल्द्वानी संजीवनी अस्पताल के संचालक जम्मू-कश्मीर में झील में डूबे, सर्च ऑपरेशन जारी

ऐसे में वह समझी कि सौदा पक्का हो चुका हैं। इसके लिए उसने एक क्यूआर कोड तृप्ति को भेज दिया। जैसे ही तृप्ति ने यह कोड स्कैन किया तो उनके खाते से 93 हजार रुपये कट गए। इस मामले में इंस्पेक्टर वसंत विहार देवेंद्र चौहान ने बताया कि पीड़िता की शिकायत के आधार पर धोखाधड़ी व आईटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *