उत्तराखंड:लॉकडाउन में स्कूटी पर घूम-घूमकर ऐसा धंधा करती थी मां-बेटी, पकड़े जाने के बाद पुलिस भी रंग गई दंग

DRUGES MOTHEER AND DHOUTER
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Haridwar: प्रदेश में नशे का कारोबार तेजी से फलफूल रहा है। युवा लगाताकर नशे की गिरफ्त में आ रहे है। तस्करों ने अपना नेटवर्क मैदान से पहाड़़ तक फैला रखा है। तस्करी में केवल पुरूष ही नहीं महिला भी शामिल है। ऐसे अभी तक उत्तराखंड में कई मामले सामने आ चुके है। इससे पहले भी महिलाएं स्मैक का धंधा करती हुई पकड़ी गई। अब धर्मनगरी हरिद्वार में मां-बेटी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जो स्कूटी पर घूम-घूमकर स्मैक बेच बेचती थी। पुलिस ने उनके कब्जे से 50 ग्राम स्मैक और 20 हजार की नकदी भी बरामद हुई है। दोनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। उनकी स्कूटी भी सीज कर दी गई है।

Ad
Ad

जानकारी देतेे हुए सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने बताया कि नशीले पदार्थों की तस्करी व बिक्री करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। ऐसे में पुलिस को जगजीतपुर क्षेत्र एक मां-बेटी के स्मैक बेचने की शिकायत मिल रही थी। सूचना पर एसएसआइ राजेंद्र रावत व जगजीतपुर चौकी प्रभारी सत्येंद्र नेगी उसके बारे में सुराग जुटाने में लगे हुए थे। शुक्रवार को चेकिंग के दौरान पुलिस ने एक्टिवा पर जा रही मां व बेटी को माया विहार तिराहे पर रोका। पुलिस ने कोरोना कफ्र्यू में घूमने का कारण पूछा तो वह कोर्ई जवाब नहीं दे पाये

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: रेल यात्रियों के लिए बड़ी खबर, काठगोदाम से इन ट्रेनों का होगा संचालन...

इसके बाद पुलिस ने दोनों से सख्ती पूछताछ की तो पता चला कि दोनों मां-बेटी स्मैक बेचने के लिए घर से निकली थी। पूछताछ में दोनों ने अपना नाम पूजा व रानी ग्राम बैलई थाना उमरी बेगम जिला गौंडा हाल निवासी विक्रम का मकान बसंत विहार फेस-1 जगजीतपुर बताया। पुलिस ने दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *