उत्तराखंड: (बड़ी खबर)- पहाड़ में ढाई साल की बच्ची को मां के हाथ से छिन ले गया गुलदार, बेसुध हुई मांं

GULDAR KA AATANK
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Pithoragadh: इस वक्त की बड़ी खबर पिथौरागढ़ से आ रही है। यहां एक बार फिर गुलदार ने आतंक मचाया है। गंगोलीहाट से करीब आठ किमी दूर स्थित जरमाल गांव के तोक छाता में तेंदुआ एक ढाई वर्षीय बालिका को उसके मां के हाथ से छीनकर उठा कर ले गया है। घटना के बाद से गांव में दहशत का माहौल है। वन विभाग की टीम बालिका का पता लगाने में जुटी है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: (गजब)-दिन में लिए सात फेरे, रात को दुल्हन फरार

घटना रविवार शाम की है। छाता गांव में लीसा निकालने का कार्य करने वाले नेपाल निवासी विकास बहादुर थापा की ढाई वर्षीय पुत्री रिया को तेंदुआ उठा कर ले गया। रिया अपनी मां के साथ झोपड़ी से लगभग तीस मीटर दूर पानी लाने गई थी। मार्ग में मां सरिता देवी ने रिया का हाथ पकड़ा था। दोनों जब मार्ग से चल रहे थे तो इसी दौरान घात लगाए तेंदुए ने रिया पर झपटा मारा और जिसके बाद तेदुआं तेजी से भाग गया। उसकी मां ने बच्ची को बचाने का प्रयास किया परंतु तेंदुआ के बालिका पर झपट्टा मारने से रिया का हाथ मां के हाथ से छूट गया।

यह भी पढ़ें 👉  IND VS ENG: विदेशी धरती पर शतक लगातार पहाड़ के पंत ने बनाये कई रिकॉर्ड, रोहित शर्मा को भी छोड़ा पीछे

मौके पर सरिता देवी के चिल्लाने पर लीसा दोहन करने वाले मजदूर मौके पर पहुंचे । सरिता देवी ने उन्हें घटना के बारे में बताया। सूचना ग्राम प्रधान जरमाल गांव पुष्कर सिंह और वन सरपंच चंद्र सिंह को दी । प्रधान ने इसकी सूचना वन विभाग को दी । सूचना मिलते ही वन रक्षक दीवान सिंह ग्रामीणों के साथ बालिका की तलाश में जुट गए। घटना के बाद गंगोलीहाट से वन क्षेत्राधिकारी मनोज सनवाल भी वन कर्मियों के साथ गांव पहुंचे और बालिका की खोजबीन चल रही है। बताया जा रहा है कि नेपाली परिवार यहां पर विगत तीन माह से यहां पर रह कर लीसा दोहन का कार्य करते हैं।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *