नैनीताल: मन्नत पूरी होने पर चमत्कारी बाबा नीम करौली की शरण में विराट-अनुष्का, मार्क जुकरबर्ग और स्टीव जाॅब्स भी है बाबा के भक्त…

kaichidham neem karoli baba virat kohali
खबर शेयर करें

Haldwani news: विराट कोहली बुधवार को परिवार के साथ उत्तराखंड के कुंमाऊं पहुंचे। वर्ल्ड कप में फार्म वापसी के बाद बाबा नीम करोली (बाबा नीब करौरी) का आशीर्वाद लेने गुपचुप तरीके से उनकी शरण में पहुंचे। जहां गुरुवार सुबह विराट ने पत्नी अनुष्का शर्मा के साथ बाबा का आशीर्वाद लिया। बता दें कि अनुष्का शर्मा ने सितंबर में कोहली की सेंचुरी के बाद बाबा नीम करोली की फोटो शेयर की थी। संभवत: अनुष्का ने कोहली की फॉर्म वापसी के लिए मन्नत मांगी थी। इसी मन्नत के पूरी होने के बाद दोनों बाबा की शरण में पहुंचे हैं।

baba neem karoli kaichi dham virat kohali

उत्तराखंड के नैनीताल जिले में स्थित कैंची धाम यानी बाबा नीम करोली का आश्रम देश-विदेश के लोगों की आस्था का प्रमुख केंद्र रहा है। विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा भी बाबा नीम करौली महाराज को मानती हैं। इस बारे में पहली बार तब पता चला जब कोहली ने अफगानिस्तान के खिलाफ शतक और अनुष्का ने इंस्टाग्राम पर बाबा नीम करोली की फोटो शेयर की थी। इसके साथ ही उन्होंने लिखा था कि आपको किसी को बदलने की आवश्कता नहीं है, आपको बस उनसे प्यार करना है। इसके बाद यह पोस्ट खूब वायरल हुई थी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : राजेन्द्र ने पास की देश की दूसरी सबसे कठिन परीक्षा, देशभर में मिली 8वीं रैंक...

बाबा नीम करोली को उनके चमत्कारों के लिए जाना जाता है। लेखक रिचर्ड अल्बर्ट ने तो मिरेकल ऑफ लव नाम से बाबा पर किताब भी लिखी है। इस किताब में बाबा के चमत्कारों का वर्णन है। एप्पल के फाउंडर स्टीव जॉब्स और फेसबुक संस्थापक मार्क जुकरबर्ग जैसी हस्तियां बाबा की भक्त हैं। एप्पल के सीईओ स्टीव जॉब्स 1973 में भारत की यात्रा पर आए थे। कहते हैं कि जॉब्स सन्यास लेने के मन बना चुके थे, लेकिन कैंची धाम पहुंचते ही उनकी सोच में बदलाव आ गया। दरअसल, वह नीम करोली बाबा के दर्शन करने पहुंचे थे, लेकिन बाबा देहांत हो चुका था। बताया जाता है स्टीव जॉब्स कुछ दिन आश्रम में रुके और ध्यान- योग किया। इसी दौरान उन्हें एपल का आइडिया आया।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा: (बड़ी खबर)- बागेश्वर और पिथौरागढ़ को जाने वाले यात्री पढ़ ले ये खबर, दो दिन तक रूट हुआ डायवर्जन…

पीएम मोदी ने साल 2015 में अमेरिका की यात्रा की थी। इस दौरान उनकी फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग से मुलाकात भी हुई थी। तब मार्क ने पीएम मोदी से नीम करोली बाबा का जिक्र किया था। मार्क ने बताया था कि इस मंदिर में जाने के लिए उन्हें एपल के को-फाउंडर स्टीव जॉब्स ने कहा था।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *