उत्तराखंड: पहाड़ में बकरी को बचाने गुलदार से भिड़ा युवक, गुलदार की मौत

खबर शेयर करें

Pithoragadh News: पहाड़ो में गुलदार की धमक लंबे समय से है। कभी कभी गुलदार इंसान को अपना निवाला भी बना लेता है। अधिकांश मामलों में गुलदार जानवरों को अपना शिकार बनाता है। लेकिन ऐसे कम मामले है जब शिकार के दौरान खुद गुलदार की मौत हो जाय। मामला पिथौरागढ़ जिले के नैनी सैनी क्षेत्र का है। जहाँ एक ग्रामीण ने गुलदार को मार दिया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: अपात्रों को राशनकार्ड निरस्त करने का आखिरी मौका, पढि़ए पूरी खबर

जानकारी के अनुसार नैनी सैनी निवासी नरेश सिंह सौन घर से लगभग 20 मीटर दूरी पर बकरियों को चरा रहा था। तभी एक गुलदार ने एक बकरी पर झपट्टा मारा। नरेश सिंह बकरी को बचाने गया तो गुलदार ने उस पर ही हमला कर दिया। लेकिन नरेंद्र सिंह गुलदार के साथ भिड़ गया। दोनों में गुत्थमगुत्था हुई। इस दौरान नरेश सिंह के हाथ में दराती थी और उसने दराती से गुलदार पर प्रहार किया। दराती के वार से गुलदार की मौत हो गई। इस दौरान वह घायल हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: 5 करोड़ के पार पहुंचा थल की बजारा गीत, लोकगायक बीके सामंत का जलवा बरकरार

घटना की सूचना वन विभाग को दी गई। सूचना पर वन रेंजर दिनेश जोशी के नेतृत्व में वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। जहां पर गुलदार का शव कब्जे में लिया। नरेंद्र सिंह सहित यह सब देख रहे ग्रामीणों के बयान लिए गए। वन रेंजर दिनेश जोशी ने बताया कि मामला आत्मरक्षा का साबित हुआ। गुलदार से बचाव के लिए नरेंद्र सिंह ने दराती से उस पर वार किये जिसके चलते गुलदार की जान चली गई। गुलदार के शव का पोस्टमार्टम कर दिया गया है। आत्मरक्षा के मामला होने से किसी तरह की कार्यवाही नहीं की गई है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *