उत्तराखंड: प्रदेश में ब्लैक फंगस से पहली मौत, मरीजों की संख्या पहुंची 21

black fungus Uttarakhand
खबर शेयर करें

Black Fungus In Uttarakhand: कोरोना के बाद उत्तराखंड में ब्लैक फंगस का खतरा भी बढ़ता जा रहा है। हर दिन इसके मरीजों की संख्या बढ़ रही है। साथ ही इससे लोगों की जान भी जान रही है। एम्स ऋषिकेश में एक मरीज की ब्लैक फंगस से मौत हो गई है। उत्तराखंड में ब्लैक फंगस के कारण यह पहली मौत है। देहरादून से रेफर होकर 36 वर्षीय युवक एम्स पहुंचा था। अब तक 21 व्यक्तियों में इस बीमारी की पुष्टि हो चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: (बड़ी खबर)-दिल्ली से सवारी लेकर आ रही बस पलटी, मची चीख-पुकार

जानकारी देते हुए एम्स ऋषिकेश के निदेशक पदमश्री प्रो. रविकांत ने बताया कि बीते कुछ दिनों में एम्स में 17 मरीजों में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। इनमें सात मरीज पहले से ब्लैक फंगस से ग्रसित होने के बाद उपचार के लिए आए थे। जबकि 10 मरीजों को कोरोना पॉजिटिव के कारण यहां भर्ती किया गया था, जिनका शुगर लेवल काफी बढ़ा हुआ था। जांच के बाद इनमें ब्लैक फंगस के लक्षण नजर आये। शुक्रवार रात ब्लैक फंगस से एक मरीज की मौत भी हो गइ,ए जबकि 16 मरीजों का उपचार चल रहा है। इनमें 10 मरीजों की सर्जरी की जा चुकी है और छह की सर्जरी की जानी है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: 1000 की उधारी को हुआ पंगा तो 200 रूपये का चाकू खरीद कर दिया मर्डर, घटना सीसीटीवी में कैद

ब्लैक फंगस के मरीजों में देहरादून से दो, हरिद्वार से तीन, रुडक़ी से दो, ऋषिकेश, काशीपुर, ऊधम सिंह नगर और अल्मोड़ा से एक-एक मरीज शामिल है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के शामली, अलीगढ़, मंडावर, मुरादाबाद और मेरठ के पांच मरीज हैं।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *