उत्तराखंड:(बड़ी खबर)- नैनीताल सांसद अजय भट्ट बने केंद्रीय मंत्री, पढ़िये उनके राजनीतिक जीवन का पूरा सफर

खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Uttarakhand: प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्रीमंडल का विस्तार करते हुए 43 नए मंत्री बनाए हैं ,केंद्रीय मंत्रिमंडल में उत्तराखंड से नैनीताल-उधमसिंहनगर सांसद अजय भट्ट को शामिल किया गया है।

Ad

जीवन परिचय

नाम अजय भट्ट स्व श्री कमलापति भट्ट 2 पुत्र 3 जन्म तिथि 01-05-1961 4 जन्म स्थान 5 पता रानीखेत , जिला अल्मोड़ा 84 , गांधी चौक , रानीखेत जिला अल्मोड़ा । आर -5 , यमुना कॉलानी , देहरादून । बी ० ए ० एल ० एल ० बी ० 6 वर्तमान पता 7 शिक्षा 8 व्यवसाय वकालत 9 पार्टी से जुड़ाव 10 पदभार विद्यार्थी जीवन में विद्यार्थी परिषद् के सन् 1980 से सक्रिय सदस्य के रूप में , इसके पूर्व पूरा परिवार जनसंघ में समर्पित । 1- भा 0 ज 0 युग मोर्चा उ 0 प्र 0 कार्य समिति का सदस्य सन् 1985 में , 2- संयोजक भाजयुमो 0 तहसील भिक्यासैण एवं रानीखेत , ( पूर्व में ) 3- जिला मंत्री भा 0 ज 0 पा 0 अल्मोड़ा ( पूर्व में ) , 4- उपाध्यक्ष भा 0 ज 0 पा 0 अल्मोड़ा ( पूर्व में ) , 5- अल्मोड़ा भा 0 ज 0 पा 0 कार्यसमिति का सन् 1985 से सदस्य , 6- सदस्य उत्तरांचल प्रदेश संघर्ष समिति ( पूर्व में ) , 7- एकता यात्रा के अल्मोड़ा जिले की केसरीया वाहिनी का प्रमुख ( पूर्व में ) . 8- संयोजक 2 बार , अल्मोड़ा – पिथौरागढ़ संसदीय सीट 9- सदस्यता अभियान प्रमुख ( पूर्व में ) . 10- प्रदेश मंत्री भा 0 ज 0 पा 0 उत्तरांचल प्रदेश ( पूर्व में )

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में खाई में समाई बोलेरो, तीन महिलाओं की मौत...

11- प्रदेश महामंत्री भा 0 ज 0 पा 0 उत्तराखण्ड प्रदेश 2 बार , 11 समाजिक दायित्व 1- 10 वर्षों से लगातार अध्यक्ष , सरकारी श्रमिक संघ कोआपरेटिव ड्रग फैक्ट्री , रानीखेत । 2- सचिव , नागरिक सुरक्षा परिषद रानीखेत ( पूर्व में ) , 3- सचिव , राष्ट्रीय ग्रामोत्थान परिषद ( पूर्व में ) . 4- महासचिव , उत्तरांचल हरिजन शिल्प कला उत्थान ( पूर्व में ) , 5- उपाध्यक्ष नूपूर कला एवं खेल संस्थान रानीखेत ( पूर्व में ) , 6- सरंक्षक बाल्मीकि समाज , रानीखेत 7- संयोजक श्रीराम कार सेवा समिति , रानीखेत राम मन्दिर निर्माण के समय , 8 सदस्य अम्बेडकर मिशन ( पूर्व में ) . 12 विधायक 1- 1996 में प्रथम बार उत्तर प्रदेश विधान सभा में रानीखेत विधान सभा से निर्वाचित , 2- 2002-2007 एवं 2012-2017 में रानीखेत विधान से उत्तराखण्ड विधान सभा में निर्वाचित । 13 सरकारी दायित्व उत्तर प्रदेश 1- उत्तर प्रेदश विधान सभा में लोक लेखा समिति व सी 0 पी 0 ए 0 के विधान सभा में सदस्य , 2- उत्तर प्रदेश विधान सभा की विशेषाधिकार समिति के सभापति । 14 उत्तरांचल बनने के बाद 1- उत्तरांचल सरकार में मंत्री का दायित्व , ( क ) चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण , ( ख ) आपदा प्रबन्धन एवं पुर्नवास , ( ग ) आबकारी विभाग , ( घ ) महिला सशक्तिकरण विभाग , ( च ) विधायी एवं संसदीय कार्य , ( छ ) बाल विकास विभाग

यह भी पढ़ें 👉  UTTARAKHAND GOVT JOB: हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में निकली बम्पर भर्ती ,पढ़िए पूरी डिटेल...

2- संयोजक विधान मण्डल उत्तरांचल विधान मण्डल दल ,
3- सभापति , सरकारी आश्वासन समिति उत्तराखण्ड विधान सभा , 4- उपाध्यक्ष , एन 0 आर 0 एच 0 एम 0 वर्ष 2009 से 2011 तक , 5- 18 मई 2012 से 15 मार्च 2017 तक नेता प्रतिपक्ष , उत्तराखण्ड विधान सभा । 15 वर्तमान दिनांक 31 दिसम्बर 2015 से प्रदेश अध्यक्ष भाजपा उत्तराखण्ड । विशेष बतौर नेता प्रतिपक्ष तत्कालीन सरकार को प्रत्येक मोर्चे पर घेरते हुए सरकार आबकारी ( शराब ) घोटला , जमीन घोटाले , सरकार बचाने के लिए लेन – देन सम्बन्धी स्टिंग , राशन घोटाला , खनन घोटाला , आपदा घोटाला , नैनीसार ( अल्मोड़ा ) में अन्तर्राष्ट्रीय आवासीय विद्यालय खोले जाने के नाम पर हुए जमीन घोटाला , पंतनगर पत्थरचट्टा में सेना की जमीन का घोटाला , नारी निकेतन देहरादून स्थित संवासिनियों का यौन शोषण प्रकरण , स्मार्ट सिटी के नाम पर देहरादून में चाय बगान की 1700 एकड़ जमीन को खुर्द – बुर्द किये जाने का प्रकरण एवं कोटद्वार के चावल घोटाले को सदन से लेकर सड़क तक संघर्ष करते हुए जनता के बीच पहुंचाने में बखूबी कामयाब रहे जिसके बाद पार्टी शीर्ष नेतृत्व ने 31 दिसम्बर 2015 को उन्हें नेता प्रतिपक्ष के साथ – साथ प्रदेश अध्यक्ष की दोहरी जिम्मेदारी भी दी । दोहरी जिम्मेदारी को निभाते हुए बूथ स्तर तक प्रदेश में पार्टी को मजबूत करने का कार्य किया जिसका परिणाम रहा कि प्रदेश में भाजपा ने 57 सीटों पर परचम लहराकर मजबूत सरकार बनायी ।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *