ऑनलाइन पेमेंट: एक अप्रैल से लगेगा झटका, अब UPI पेमेंट करने पर कटेगा चार्ज !…

खबर शेयर करें

Delhi News:एक अप्रैल से महंगाई का एक और झटका लगने जा रहा है। नोटबंदी के बाद कैश की जगह स्मार्टफोन ले ले लिया है तो अब ये आदत आपको महंगी पड़ने वाली है। एनपीसीआई ने यूपीआई पेमेंट को लेकर सर्कुलर जारी किया है। जिसमें 1 अप्रैल से यूपीआई से होने वाले मर्चेट पेमेंट पर पीपीआई चार्ज लगाने की सिफारिश की है। फिलहाल ये सिफारिश की गई है। यहां ये ध्यान देना होगा कि अगर ये लागू हो जाता है कि आपको यूपीआई से ट्रांजैक्शन करने पर अतिरिक्त चार्ज लगेगा।

यूपीआई से पेमेंट करना अब महंगा होगा। 1 अप्रैल से यूपीआई से पेमेंट करने पर आपको चार्ज देना होगा। यानी 1 अप्रैल से जीपे (GPay), फोनपे (phonePe) , पेटीएम (Paytm)ऐप से पेमेंट करेन पर चार्ज देना पड़ सकता है। नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने इस बारे में एक सर्कुल जारी किया है। जिसके मुताबिक यूपीआई से मर्चेंट ट्रांजेक्शन पर फीस लगाने का सुझाव दिया गया है। इसका मतलब ये है कि 1 अप्रैल से मर्चेंट के साथ की जाने वाली लेनदेन पर आपक अतिरिक्त चार्ज लगेगा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानीः दंगे में नहीं प्रेम-प्रसंग में हुई थी बिहार के प्रकाश की हत्या, पुलिस सिपाही समेत 4 गिरफ्तार…

24 मार्च को एनपीसीआई की ओर से ये सर्कुलर जारी किया गया। इस सर्कुलर में प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट (PPI) फीस लगाने का सुझाव दिया गा है। ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक यूपीआई पेमेंट सिस्टम इस सुझाव के बाद 2000 रुपए से अधिक से यूपीआई पेमेंट पर पीपीआई फीस यानी एक्सट्रा चार्ज लगाने की तैयारी कर रहा है। अगर ये होता है तो 2000 रुपये से अधिक के लेनेदेन पर 1.1 प्रतिशत का चार्ज लग सकता है। बता दे कि यूपीआई से होने वाले ट्रांजैक्शन का 70 फीसदी ट्रांजैक्शन 2 हजार रुपये से अधिक वैल्यू की होती है। ऐसे लोगों को अब फोनपे, यूपीआई, गूगलपे, पेटीएम जैसे डिजिटल ट्रांजैक्शन के लिए एक्सट्रा चार्ज देना पड़ सकता है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *