उत्तराखंड: लोकगायक ही नहीं एक बड़े कलाकार भी है प्रकाश फुलारा, जल्द आ रही चौथी एल्बम हिट रितु मासी बाजार

HIT REETU MASI BAZARA
खबर शेयर करें

Pahad Prabhat News Exclusive: मधुर और दिलकश आवाज के धनी प्रकाश फुलारा एक पहाड़ी गायक और गीतकार हैं। उन्हें कुमाऊंनी, गढ़वाली, जौनसारी, हिमाचली, बिहारी, भोजपुरी और हरियाणवी रागनी के गायन में महारत हासिल है। प्रकाश फुलारा ग्राम बिठोली, द्राराहाट, जिला अल्मोड़ा के मूल निवासी हैं। पिता कृष्णानंद फुलारा के घर जन्मे प्रकाश फुलारा गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

Ad

‘उचा डानो मा सैम ज्यू को वासा’ प्रकाश फुलारा की पहली एल्बम थी। अल्मोड़ा जिले के ग्राम गनोली में सैम ज्यू का बहुत ही प्राचीन और भव्य मंदिर है। यहां सैम देवता के साथ माता विजया देवी की मूर्ति विराजमान है। प्रकाश फुलारा ने सैम ज्यू की स्तुति में सुंदर भजन की रचना की और उसका गायन भी स्वयं किया। कुमाऊंनी भजन की उनकी यह पहली एल्बम लोगों को खूब पसंद आई। 

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: देवभूमि का एक और लाल शहीद, पांच माह बाद बंधना था सेहरा…

‘तारा तेरी याद मा’ प्रकाश फुलारा की दूसरी एल्बम है। इस गाने में उन्होंने कॉलेज के दिनों में लड़के-लड़कियों की मौजमस्ती को प्राकृतिक सौंदर्य, सुराईखेत बाज़ार, चांदी के बटन, भोली अनवार, भलो हसना, भलो बुलाना जैसे कुमाऊंनी शब्दों के माध्यम से बड़ी ही सुंदरता से पिरोया है। इस एल्बम के गाने ने युवाओं का मन मोह लिया।  ‘दिल्ली की छोरी बड़े कमाल की’ प्रकाश फुलारी की तीसरी एल्बम है। रोमांटिक गाने वाली इस एल्बम के गाने को गढ़वाली, कुमाऊंनी औऱ हिमाचली जौनसारी भाषा में पिरोया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: इस वक्त की सबसे बड़ी खबर, 16 जनवरी तक इन चीजों पर लगी पाबंदी, देखिये नई गाइडलाइन...

प्रकाश फुलारा की चौथी एल्बम हिट रितु मासी बाजार’ जल्द ही रिलीज होने वाली है। प्रकाश फुलारा का बचपन गरीबी में बीता पर यह बात भी सच है कि इंसान में अगर कुछ खूबी होती है तो वो अपने आप बाहर आती है , बस उसको खुद परखने की जरूरत है , उपर बैठी धूल हो हटाने की जरूरत है । बचपन से ही सामाजिक कार्यों में अपना योगदान दिया , रामलीला मंच में अपने  नित्य ओर एक्टिंग के द्वारा लोगो का मन मोह लिया। सुराईखेत इंटर कालेज से पढ़ाई की ओर स्कूल राज्य प्रोग्राम में भी अपना योगदान दिया। उसके बाद राजनीति में पदार्पण भी आए और दो बार सरपंच रहे। बड़े ही सुंदर तरीके से काम किया जिसके कारण उत्तराखंड के प्रदेश अध्यक्ष संगठन में भी रहे । पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और हरीश रावत के द्वारा भी पुरस्कार से नवाजा गया। यह सब सामाजिक कार्यों में अपना योगदान देने के बाद अपने असली टैलेंट को उभारा  और अपने , खुद के लिखे  दो लगातार एल्बम निकाली , तीसरी एल्बम दिल्ली की छोरी भी जल्द आपके सामने आएगी

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *