मासी: श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मासी बाजार लगेगा ऐतिहासिक मेला, अपने सुरों सेे कार्यक्रम को भक्तिमय बनायेंगे ये कलाकार

Ad
खबर शेयर करें

Masi News: श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के सुअवसर पर मासी बाजार में ऐतिहासिक (डोली) मेले की तैयारियां अपने अंतिम चरण में है। विगत वर्षो की भांति इस वर्ष भीश्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मासी बाजार में लगने वाले इस ऐतिहासिक (डोली) मेले का आयोजन हर्ष रावत (हरदा) पूर्व व्यापार मंडल अध्यक्ष एंव उनकी कीर्तन मंडली द्वारा आयोजित किया जाता है। इस बार उन्होंने डोबरा गांव निवासी सामाजिक कार्यकर्ता रणजीत सिंह रावत (पप्पू दा) और लाल सिंह रावत (गुड्डू दा) कार्यक्रम में आमंत्रित किया है। जिसके बाद दोनों भाई इस कार्यक्रम को और भी भव्य बनाने में जुटे है। इस बार उन्होंने उत्तराखंड लोक कलाकारों और झांकियों को भी कार्यक्रम में शामिल कर चार चांद लगाने की कोशिश की है।आगे पढ़ें…

Ad

आपको बता दें कि ईश्वर के प्रति गहरी आस्था रखने वाले सामाजिक कार्यकर्ता रणजीत सिंह रावत (पप्पू दा) और लाल सिंह रावत (गुड्डू दा) सामाजिक कार्यों में बढ़-चढक़र हिस्सा लेते है। वर्ष 2018 में उन्होंने अपने गांव डोबरा में एक भव्य जागरण का आयोजन किया था। जो क्षेत्र में काफी चर्चाओं में रहा। अब वह मासी बाजार में लगने वाले भगवान श्रीकृष्ण के जन्मदिवस कार्यक्रम को खास बनाने में जुटे है। इसके लिए उन्होंने उत्तराखंड के सुर सम्राट स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी के सुपुत्र लोकगायक रमेश बाबू गोस्वामी और लोकगायक बिशन हरियाला को कार्यक्रम में आमंत्रित किया है। साथ ही कार्यक्रम को खास और भव्य बनाने के लिए झांकियों की तैयारी भी की है। इस ऐतिहासिक मेले को लेकर पूरी गेवाड़ घाटी में उत्साह का माहौल है। आगे पढ़ें…

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः आज से मौसम बदलेगा करवट, इन जिलों में बर्फबारी की संभावना

जानकारी देते हुए सामाजिक कार्यकर्ता रणजीत सिंह रावत (पप्पू दा) और लाल सिंह रावत (गुड्डू दा) ने संयुक्त रूप से बताया कि डोबरी मासी में हर साल भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है। इस बार हमें भी इस मेले में शामिल होने का मौका मिला है। इस मेले को और खास बनाने की कोशिश उनके द्वारा की गई है। हर साल क्षेत्र में इस ऐतिहासिक मेले का आयोजन किया जाता है। उन्होंने बताया कि लोकगायक रमेश बाबू गोस्वामी और लोकगायक बिशन हरियाला अपने भजनों से इस कार्यक्रम को भक्तिमय बनाने का काम करेंगे। साथ ही अन्य कलाकारों द्वारा लोगों को भगवान श्रीकृष्ण की लीला के दर्शन कराये जायेंगे। आगे पढ़ें…

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:(बड़ी खबर)- गौला खनन को लेकर मिली सैद्धांतिक सहमति, पढ़िए पूरी खबर...

उन्होंने बताया कि आगामी 19 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के दिन ऐतिहासिक (डोली) मेले का आयोजन किया जायेगा। यह कार्यक्रम दोपहर 12 बजे से 4 बजे तक आयोजित किया जायेगा। इसके बाद शाम 4 बजे से डोली प्रस्थान का कार्यक्रम होगा। उन्होंने लोगों से अपील की कि भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोउत्सव को भव्य और खास बनाने के लिए अधिक से अधिक लोग पहुंचे। बता दे कि माता रानी के भक्त लाल सिंह रावत (गुड्डू दा) गरीब और असहाय लोगों की मदद को हमेशा अपने हाथ आगे बढ़ाते है। वहीं क्षेत्र के सामाजिक कार्यों में हमेशा आगे रहते है। उनका स्वभाव ही उनके व्यक्तिव का परिचय है। उनकी हमेशा को शिश रहती है कि जो भी उनके पास कुछ उम्मीद लेकर आया हो वह कभी निराश न लौटे। उनका यही स्वभाव लोगों का भाता है। क्षेत्र में इस ऐतिहासिक (डोली) मेले के लिए उन्हें लगातार लोगों का सहयोग मिल रहा है। लोग इस कार्य के लिए उन्हें बधाई दे रहे है। वहीं लोकगायक रमेश बाबू गोस्वामी ने भी सामाजिक कार्यकर्ता रणजीत सिंह रावत (पप्पू दा) और लाल सिंह रावत (गुड्डू दा) क्षेत्र में इस ऐतिहासिक (डोली) मेले के आयोजन के लिए बधाईयां और शुभकामनाएं दी।

Ad
Ad
Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *